in

विराट कोहली के एक शॉट ने भारत को मेलबर्न टेस्ट मैच में पीछे किया

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में विराट ने 82 रनों की शानदार पारी खेली। पूरी पारी विराट कोहली ने एक कुशल बल्लेबाज की तरह खेली। सिर नीचे रख उचित गेंदों को सम्मान दिया और कमजोर गेंदों पर रन बटोरने में कोताही नहीं बरती। लेकिन जिस तरह से विराट आउट हुए उसने उनकी इनिंग पर पानी फेर दिया।

विराट कोहली ने स्टार्क की एक शॉर्ट पिच गेंद पर, जो कि ऑफ स्टंप से काफी बाहर थी, बल्ला यह जानते हुए भी अड़ाया कि दूर थर्डमैन पर एरॉन फिंच खड़े हैं। कोहली के बल्ले से गेंद उछलती हुई सीधे फिंच के हाथों में समा गई। ऐसा शॉट तो वनडे क्रिकेट में भी कोई न खेले और विराट ने इसे टेस्ट मैच में खेल डाला।

कोहली की इस हरकत से भारत कम से कम 50 रन पीछे रह गया। भारत ने सात विकेट खोकर 443 रन बना कर पारी घोषित की।

यदि उस समय विराट गैरजिम्मेदाराना शॉट नहीं लगाते तो भारत पांच सौ रन के करीब होता। विराट शतक के नजदीक थे और शतक पूरा करने में भी कामयाब होते।

भारतीय बल्लेबाजों ने इस टेस्ट मैच में धीमी बल्लेबाजी की। विराट से उम्मीद थी कि वे अंतिम सेशन में तेजी से रन बटोरेंगे और पारी घोषित करेंगे। विराट उस समय सेट हो चुके थे। फुटबॉल की तरह गेंद नजर आ रही थी। वे तेजी से रन बना सकते थे।

उनके बाद आए रोहित शर्मा पर तो अपना स्थान बनाए रखने का दबाव था और इस कारण उन्होंने धीमी बल्लेबाजी की। रहाणे ने भी यही किया।

ऋषभ पंत जरूर तेज खेलते हैं, लेकिन लंबे समय टिक नहीं पाते। यदि विराट टिके रहते तो भारत और भी बेहतर स्थिति में होता। फिलहाल विराट के इस खराब शॉट ने भारत को कम से कम 50 रन पीछे कर दिया।

Trent Boult of New Zealand celebrates with teammates. (Photo by Anthony Au-Yeung/Getty Images)

ट्रेंट बोल्ट के कातिलाना स्पेल ने तेज गेंदबाजी के युग की दिला दी याद

इस लड़की के आते ही बदल गई मयंक अग्रवाल की जिंदगी, ऑस्ट्रेलिया में ऐसे किया कारनामा