सर विवियन रिचर्ड्स को ऑर्डर ऑफ द कैरेबियन कम्युनिटी अवार्ड से सम्मानित किया गया - क्रिकट्रैकर हिंदी

सर विवियन रिचर्ड्स को ऑर्डर ऑफ द कैरेबियन कम्युनिटी अवार्ड से सम्मानित किया गया

सर विवियन रिचर्ड्स ने साल 1974 और 1991 के बीच वेस्टइंडीज का प्रतिनिधित्व किया।

Sir Viv Richards. (Image Source: CWI Twitter)
Sir Viv Richards. (Image Source: CWI Twitter)

वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर सर विवियन रिचर्ड्स को प्रतिष्ठित पुरस्कार ऑर्डर ऑफ द कैरेबियन कम्युनिटी (CARICOM) से सम्मानित किया गया है। वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान को 3 जुलाई को सूरीनाम में शासनाध्यक्षों के 43वें सम्मेलन में यह सम्मान दिया गया।  सूरीनाम गणराज्य के राष्ट्रपति चान संतोखी ने सर विवियन रिचर्ड्स को ऑर्डर ऑफ द कैरेबियन कम्युनिटी अवार्ड दिया।

आपको बता दें, सर विवियन रिचर्ड्स अब तक के सबसे खतरनाक बल्लेबाज के रूप में जाने जाते हैं, और वह 1970 और 80 के दशक में क्रिकेट की दुनिया में राज करने वाली वेस्टइंडीज टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा थे। वह साल 1975 और 1979 में वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम का हिस्सा थे।

क्रिकेट वेस्टइंडीज (CWI) ने सर विवियन रिचर्ड्स को बधाई दी

इस बीच, क्रिकेट वेस्टइंडीज (CWI) ने विवियन रिचर्ड्स को ऑर्डर ऑफ द कैरेबियन कम्युनिटी से सम्मानित किए जाने पर बधाई दी। CWI ने ट्विटर पर अवार्ड समारोह की एक तस्वीर साझा करते हुए महान क्रिकेटर को बधाई दी।

सर विवियन रिचर्ड्स को बधाई देते हुए CWI के अध्यक्ष रिकी स्केरिट ने आधिकारिक बयान में कहा: “मैं CWI के निदेशक मंडल और पूरे वेस्ट इंडीज क्रिकेट समुदाय की ओर से सर विव को CARICOM द्वारा दिए गए इस शानदार सम्मान के लिए बधाई देता हूं। यह हमारे महान क्रिकेटर के लिए सबसे उपयुक्त सम्मान है।

उन्होंने सारी दुनिया को दिखाया कि कैरेबियाई लोग विश्व स्तर पर उत्कृष्टता हासिल करने और क्रिकेट की  दुनिया पर राज करने में सक्षम हैं। सर विव ने वेस्टइंडीज क्रिकेट की महान हस्तियों से कमान ली और बखूबी अपनी भूमिका निभाई और आने वाली पीढ़ी के लिए महानता और प्रभुत्व के नए स्तर स्थापित किए। उन्होंने ईश्वर द्वारा प्रदान की गई प्रतिभा, मानसिकता, शारीरिक तत्परता और अपने बल्ले का बेहद शानदार इस्तेमाल किया, और दुनिया भर में वेस्ट इंडीज को गौरव दिलाने में  मदद की।”

आपको बता दें, सर विवियन रिचर्ड्स ने साल 1974 और 1991 के बीच वेस्टइंडीज के लिए 121 टेस्ट मैच और 187 वनडे मैच खेले। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 24 शतकों की मदद से 8,540 रन बनाए, जबकि वनडे क्रिकेट में 6,721 रन बनाए, और 11 शतक लगाए। उन्होंने 1979 वर्ल्ड कप फाइनल में मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ 138 रनों की यादगार पारी खेली थी, और वेस्टइंडीज को अपना दूसरा वर्ल्ड कप का खिताब जीतने में अहम भूमिका निभाई।