क्या टी-20 वर्ल्ड कप में पूरी होगी सुनील गावस्कर की ये इच्छा ? - क्रिकट्रैकर हिंदी

क्या टी-20 वर्ल्ड कप में पूरी होगी सुनील गावस्कर की ये इच्छा ?

ICC भी चाहती है कि भारत और पाकिस्तान के बीच हो टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल: सुनील गावस्कर

India and Pakistan. (Photo Source: Getty Images)
India and Pakistan. (Photo Source: Getty Images)

भारत और पाकिस्तान के बीच ICC टी-20 वर्ल्ड कप का मुकाबला 24 अक्टूबर को दुबई के अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में होगा। यूएई और ओमान में हो रहे इस टूर्नमेंट के लिए कई क्रिकेट दिग्गज अपनी राय दे रहे हैं। लेकिन इसी बीच भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने एक इच्छा जताई है।

दोनों टीमों के बीच टी-20 वर्ल्ड कप में अब तक पांच मुकाबले हुए हैं, जिसमें से पाकिस्तान की टीम एक भी मैच नहीं जीत पाई है। 24 अक्टूबर को जब दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में दोनों टीमों की भिड़ंत होगी तो भारत की यही कोशिश रहेगी कि वो इस इतिहास को कायम रख सके, वहीं पाकिस्तान की कोशिश इसे बदलने की होगी।

क्या है सुनील गावस्कर की इच्छा ?

भारत और पाकिस्तान के बीच मैच को लेकर फैंस का उत्साह चरम पर है और इसी बीच सुनील गावस्कर ने कहा कि इन दोनों टीमों को टूर्नमेंट के फाइनल में देखना एक अलग ही रोमांच होगा। उन्होंने आज तक के कार्यक्रम सलाम क्रिकेट में कहा, “मैं चाहता हूं भारत और पाकिस्तान के बीच टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल हो। इससे ज्यादा कोई क्या चाह सकता है? यहां तक कि ICC भी भारत और पाकिस्तान को फाइनल में चाहती है।”

वसीम अकरम के मुताबिक ये चार टीमें होंगी सेमीफाइनल में

इस बीच पूर्व पाकिस्तानी कप्तान वसीम अकरम भी इस पैनल का हिस्सा थे और उन्होंने सेमीफाइनल में पहुंचने वाली टीमों की भविष्यवाणी की। उनके मुताबिक भारत, पाकिस्तान, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज की टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेंगी, साथ ही उनका यह भी कहना है कि न्यूजीलैंड की उम्मीदें मौसम पर निर्भर होगी।

अकरम ने कहा, “मुझे लगता है कि न्यूजीलैंड की उम्मीदें काफी हद तक मौसम पर निर्भर होगी। अभी यहां बहुत गर्मी है, लेकिन इसके बाद मौसम सुहाना हो जाएगा। मुझे लगता है कि सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमें भारत, पाकिस्तान वेस्टइंडीज और इंग्लैंड होंगी।”

वहीं सुनील गावस्कर ने कहा कि “उनकी नजर में कोई भी टीम इस खिताब को जीतने की फेवरिट नहीं है। जो टीम मुकाबले के दिन दबाव को अच्छी तरह से संभालेगी, जो टीम कम गलतियां करेगी वह अच्छा करेगी। इसके साथ ही सभी टीमों को वेस्टइंडीज से सावधान रहने की जरूरत है।”