अंडर-19 वर्ल्ड कप में बेबी एबी के नाम से चर्चा में आने वाले डेवाल्ड ब्रेविस आखिर कौन हैं? - क्रिकट्रैकर हिंदी

अंडर-19 वर्ल्ड कप में बेबी एबी के नाम से चर्चा में आने वाले डेवाल्ड ब्रेविस आखिर कौन हैं?

डेवाल्ड ब्रेविस के बल्लेबाजी करने के तरीके में एबी डी विलियर्स की झलक देखने को मिली है।

Dewald Brevis. (Photo by Matthew Lewis-ICC/ICC via Getty Images)
Dewald Brevis. (Photo by Matthew Lewis-ICC/ICC via Getty Images)

वेस्टइंडीज में इस समय आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप 2022 खेला जा रहा है। जिसमें कई नए युवा खिलाड़ी अपने प्रतिभा का परिचय देते हुए दिखाई दे रहे हैं, जिसमें से कुछ आने वाले समय के बड़े खिलाड़ी बनते हुए देखने को मिलेंगे। इसी में साउथ अफ्रीकी टीम के खिलाड़ी डेवाल्ड ब्रेविस भी काफी सुर्खियां बटोरने का काम कर रहे हैं।

भले ही साउथ अफ्रीकी टीम को इंग्लैंड के खिलाफ सुपर लीग के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में 6 विकेट से हार के बाहर होना पड़ा। लेकिन डेवाल्ड ब्रेविस की बल्लेबाजी ने उन्हें पूरे टूर्नामेंट के दौरान सबसे ज्यादा राहत देने का काम किया था। दरअसल ब्रेविस की बल्लेबाजी के दौरान पूर्व साउथ अफ्रीकी कप्तान और मिस्टर 360 डिग्री के नाम से पहचाने जाने वाले एबी डी विलियर्स की झलक देखने को मिली।

इसी के बाद से डेवाल्ड ब्रेविस की पहचान बेबी एबी के तौर पर की जाने लगी। जिसमें ब्रेविस ने अपनी बल्लेबाजी के दौरान ऐसा करते हुए भी दिखाया और भारत के खिलाफ मुकाबले में उनकी 65 रनों की पारी के दौरान मैदान के सभी छोरों में वह शॉट लगाने में भी कामयाब दिखाई दिए थे। इसके बाद ब्रेविस ने यूगांडा के खिलाफ 104 रनों की मैच विनिंग पारी भी खेली थी।

लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ ब्रेविस की 97 रनों की सहासिक पारी टीम को जीत दिलाने में नाकाफी साबित हुई और उन्हें क्वार्टर फाइनल जैसे अहम मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा।

इस वजह से पड़ा बेबी एबी नाम

डेवाल्ड ब्रेविस जिनको सभी अब बेबी एबी के नाम से पहचान रहे हैं। दरअसल उनका बल्लेबाजी करने का तरीका और गेंद पर शॉट लगाने के लिए जाना सभी एबी डी विलियर्स की याद दिलाता है। जिसमें साउथ अफ्रीकी ड्रेसिंग रूम में भी एक प्लेकार्ड देखने को मिला था, जिसमें बेबी एबी लिखा हुआ था।

जहां डेवाल्ड ब्रेविस को अब बेबी एबी कहा जहा रहा है, वहीं वह भी एबी डी विलियर्स के काफी बड़े फैन हैं। वह अफ्रीकानास होएस सेयूनसकूल से पढ़े हैं, जहां से एबी डी विलियर्स ने पढ़ते हुए लगातार क्रिकेट खेलना जारी रखा था।