आयरलैंड दौरे के लिए कप्तान नियुक्त किए जाने के बाद हार्दिक पांड्या ने किया बड़ा खुलासा - क्रिकट्रैकर हिंदी

आयरलैंड दौरे के लिए कप्तान नियुक्त किए जाने के बाद हार्दिक पांड्या ने किया बड़ा खुलासा

हार्दिक पांड्या इस समय दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही T20I सीरीज में खेल रहे हैं।

Hardik Pandya (Image Source: BCCI)
Hardik Pandya (Image Source: BCCI)

भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने हाल ही में उन्हें आयरलैंड दौरे के लिए कप्तान नियुक्त किए जाने पर प्रतिक्रिया दी और साथ ही उन्होंने अपनी गेंदबाजी और फिनिशर की भूमिका पर भी बात की। इस समय वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही पांच मैचों की टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज में भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा हैं। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अब तक चार मैचों में 31*, 9, 31* और 46 रन बनाए हैं।

आपको बता दें, स्टार ऑलराउंडर ने अपनी पीठ के मुद्दों के चलते टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के बाद से भारतीय टीम से खुद को बाहर रखा था, और दक्षिण अफ्रीका सीरीज के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की। इस दौरान उन्होंने अपनी फिटनेस पर कड़ी मेहनत की और आईपीएल में गुजरात टाइटन्स (GT) को पहला आईपीएल 2022 (IPL 2022) खिताब दिलाकर सभी का दिल जीत लिया। अब वह जल्द भारत की कप्तानी करते हुए नजर आएंगे।

आयरलैंड दौरे पर भारत की अगुवाई करने को लेकर उत्साहित हैं हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या ने स्टार स्पोर्ट्स को बताया: “मुझे पहले से ही पता था कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज के बाद मैं आयरलैंड दौरे पर भारतीय टीम की कप्तानी करूंगा। भले ही मुझे पता था कि आयरलैंड दौरे के लिए मुझे कप्तान नियुक्त किया जाएगा, लेकिन अपने देश का नेतृत्व करना हमेशा सम्मान की बात होती है। सात महीने पहले किसने सोचा होगा कि मैं अपनी टीम की कप्तानी करूंगा? मेरा मानना है कि यदि आप सही सोच रखते हैं और कड़ी मेहनत करते हैं, तो कुछ में असंभव नहीं, आप बहुत कुछ बदल सकते हैं।”

भारतीय क्रिकेट टीम में फिनिशर की भूमिका और उनकी गेंदबाजी पर बात करते हुए, स्टार ऑलराउंडर ने कहा: “जब भी मेरी टीम को मेरी आवश्यकता होगी, तो मैं हमेशा एक-दो ओवर डालने के लिए मौजूद रहूंगा। हम छह गेंदबाजों के साथ खेलते हैं, और टी-20 क्रिकेट में आपके पास छह गेंदबाजी विकल्प होना जरूरी होता है। हमारे पास अभी पर्याप्त गेंदबाज हैं, और वे अच्छा भी कर रहे हैं, इसलिए आप मुझे गेंदबाजी करते हुए नहीं देख रहे हैं।”

हार्दिक पांड्या ने अंत में कहा: “मुझे लगता हैं कि बल्लेबाज को हमेशा अपनी बल्लेबाजी स्थिति का आनंद लेना चाहिए, और टीम में मेरी जो भूमिका हैं, जहां भी मैं बल्लेबाजी करता हूं, मैं उस स्थिति का जबरदस्त लुफ्त उठता हूं। मैं फिनिशर की भूमिका के साथ आने वाली चुनौती का आनंद लेता हूं, क्योंकि एक या दो गेंद खेलकर गेंदबाजों पर सीधे हमला करना आसान नहीं होता है। लेकिन मुझमें ये नेचुरल हैं कि मैं गेंदबाजों पर शुरू से ही टूट पड़ता हूं, और मैं इस चुनौती का आनंद लेता हूं।”