in

वर्ल्ड कप से पहले उमेश यादव के लिए बढ़ गई हैं मुश्किलें, गिर सकती है गाज

उमेश यादव की खराब गेंदबाज़ी के बाद सोशल मीडिया पर उनको बाहर करने की मांग उठने लगी है।

ऑस्ट्रेलिया टीम भारत दौरे पर है। जहां ऑस्ट्रेलिया टीम ने दौरे की शुरुआत जीत के साथ कर दी है। दो टी20 मैचों की सीरीज़ का पहला मैच ऑस्ट्रेलिया टीम ने 3 विकेट से जीत लिया है। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया टीम दूसरा टी20 मैच जीतकर सीरीज़ जीतना चाहेगी। वहीं भारतीय टीम दूसरा टी20 मैच जीतकर सीरीज़ 1-1 की बराबरी पर लाना चाहेगी।

विशाखापटनम के मैदान पर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारतीय टीम बड़ा स्कोर नहीं खड़ा कर पाई। जिसके बाद टीम को हार का सामना करना पड़ा। टीम इंडिया के बल्लेबाज़ों ने पहले टी20 मैच में काफी निराश किया। सलामी बल्लेबाज़ केएल राहुल को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ बड़ी पारी नहीं खेल पाया।

केएल राहुल ने 36 गेंदों में 50 रन ठोके। कप्तान कोहली ने 24 तो महेंद्र सिंह धोनी ने 29 रनों की नाबाद पारी खेली। टीम इंडिया 7 विकेट के नुकसान पर 126 रन ही 20 ओवर में जोड़ सकी। हालांकि अंतिम ओवर में उमेश यादव की खराब गेंदबाज़ी के कारण टीम को मैच हारना पड़ा।

उमेश यादव नहीं बचा पाए 14 रन

Umesh Yadav
Umesh Yadav of India. (Photo by Matt King/Getty Images)

अंतिम ओवर में ऑस्ट्रेलिया टीम को जीत के लिए 14 रन चाहिए थे। लग रहा था कि उमेश यादव अपनी बेहतरीन गेंदबाज़ी से मैच में 14 रन बचा लेंगे। लेकिन वह टीम के लिए 14 रन नहीं बचा पाए। हैरत की बात यह है कि ऑस्ट्रेलिया की ओर से कोई सेट बल्लेबाज़ क्रीज पर नहीं था।

ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज़ों ने उमेश यादव की गेंदों पर 14 रन बनाकर मैच जीत लिया। अंतिम गेंद पर जीत के लिए दो रन चाहिए थे। तेज़ गेंदबाज़ पैट कमिंस ने अंतिम गेंद पर 2 रन बनाकर मैच जीत लिया। उमेश यादव ने 4 ओवर में 35 रन लुटाए और कोई विकेट हासिल नहीं किया।

वर्ल्ड कप में कितने अहम साबित होंगे उमेश यादव

उमेश यादव की खराब गेंदबाज़ी के बाद सोशल मीडिया पर उनको बाहर करने की मांग उठने लगी है। उमेश यादव वर्ल्ड कप 2019 की रेस में शामिल हैं। लेकिन हैरानी की बात यह है कि जब उमेश घरेलू मैदान पर निर्णायक मैच में अपने अंतिम ओवर में 14 रन नहीं बचा पा रहे हैं तो इंग्लैंड की पिचों पर वह सबसे बड़े टूर्नामेंट में किस तरह से गेंदबाज़ी करने में सक्षम होंगे।

उमेश यादव के पास बेहतरीन पेस है, लेकिन वह भारत के अन्य तेज गेंदबाज़ों की तरह बॉल को सही दिशा में टप्पा नहीं खिला पाते हैं। जिससे उनपर बल्लेबाज़ों के लिए रन बनाना आसान हो जाता है।

विश्व कप से पहले टीम इंडिया के चयनकर्ताओं के पास मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद, जयदेव उनादकट और मोहम्मद सिराज का विकल्प है। ऐसे में उमेश यादव पर उनके इस खराब प्रदर्शन की गाज गिर सकती है।

team india (photo by ICC/twitter)

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज़ में वापसी के लिए टीम इंडिया को करने होंगे ये 3 काम

Indian cricket team

कोहली ने मैच से पहले शहीदों को श्रद्धांजलि देते समय शोर मचा रही भीड़ को इस तरह चुप कराया