कप्तानी मुद्दे को लेकर माइकल क्लार्क ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को जमकर लताड़ा - क्रिकट्रैकर हिंदी

कप्तानी मुद्दे को लेकर माइकल क्लार्क ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को जमकर लताड़ा

टिम पेन ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ी थी।

Australian cricketer Michael Clarke. (Photo by Pramod Thakur/Hindustan Times via Getty Images)
Australian cricketer Michael Clarke. (Photo by Pramod Thakur/Hindustan Times via Getty Images)

माइकल क्लार्क ने टिम पेन की मुद्दे को लेकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) की काफी आलोचना की थी। क्लार्क का मानना है कि अगर ऑस्ट्रेलिया को किसी ऐसे खिलाड़ी की तलाश कर रहा है, जिसके पास सही रिकॉर्ड हो तो उनके पास कप्तानी के कोई विकल्प नहीं होंगे।

2017 में एक महिला सहकर्मी को भेजे गए कुछ आपत्तिजनक संदेशों के सामने आने के बाद टिम पेन ने कप्तानी छोड़ने के अपने फैसले की घोषणा की। पूर्व खिलाड़ियों और प्रशासकों ने उस समय की घटना को छुपाने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की भूमिका की आलोचना की है।

क्लार्क ने दृढ़ता से महसूस किया कि ऑस्ट्रेलियन बोर्ड ने उनके कप्तान को बेहद आसानी बाहर जाने दिया था। उन्होंने कहा कि अगर वो अपने निजी जीवन में एक आदर्श रिकॉर्ड वाले कप्तान की तलाश में हैं तो टीम को 15 साल की इतिहास तलाशनी पड़ सकती है।

कप्तानी की मुद्दे को लेकर माइकल क्लार्क ने क्या कहा ?

Big Sports Breakfast से बातचीत करते हुए माइकल क्लार्क ने कहा कि, “खिलाड़ी का भी समर्थन कहां है? आप 15 साल के लिए देख रहे होंगे (यदि आप ऐसा कप्तान चाहते हैं जिसने कुछ भी गलत नहीं किया है), तो हमारे पास एक भी कप्तान नहीं होगा।”

माइकल क्लार्क ने रिकी पोंटिंग का उदाहरण दिया, जिन्होंने एक महान बल्लेबाज और सफलतम कप्तान बनने के लिए अपने करियर की मुश्किल शुरुआत की। उन्होंने कहा कि, “मेरे समय में वापस जाओ, यहां तक ​​कि रिकी पोंटिंग के समय में अगर ऐसा होता तो वह कभी ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी नहीं करते।”

पोंटिंग को लेकर उन्होंने आगे कहा कि, “क्या आप इस वजह से उन्हें कप्तानी नहीं देने जा रहे हैं ? वह एक महान उदाहरण है। उन्होंने आपको दिखाया है कि कैसे समय, अनुभव, परिपक्वता, उच्चतम स्तर पर खेलना और यहां तक ​​कि कप्तानी ने भी उन्हें बदल दिया।”