चीते सी फूर्ती – भारत के 5 बेहतरीन फील्डर्स - क्रिकट्रैकर हिंदी

चीते सी फूर्ती – भारत के 5 बेहतरीन फील्डर्स

फील्डिंग आज के क्रिकेट में एक अभिन्न कड़ी है| एक रन आउट खेल की पूरी स्थिति ही बदल देता है| एक शानदार कैच या ड्राप कैच श्रंखला में आपकी जीत हार तय कर सकता है| एमएस धोनी के भारतीय कप्तान बनने के बाद से ही क्षेत्ररक्षण पर विशेष ध्यान दिया जाने लगा और आज टीम इंडिया के पास विश्वस्तरीय फील्डरों की भरमार है|

आइये नज़र डाल लेते हैं इतिहास और वर्तमान के ऐसे ही कुछ सितारों पर :

1. एकनाथ सोलकर

Eknath Solkar (Photo by Central Press/Hulton Archive/Getty Images)

आप सुनील गावस्कर से इनके कसीदे पढने को कहिये और लिटिल मास्टर सदियों नहीं रुकने वाले| चाहे वो 1971 इंग्लैंड दौरे पे ओवल की यादगार जीत रही हो या भारत की नामी स्पिन चौकड़ी पर शॉर्ट लेग का जिम्मा सँभालने का काम, सोलकर हमेशा परफेक्शन वाले सेनापति रहे| मजाल है की उनके रहते कोई गेंद शार्ट लेग से निकल जाए|

 2. मोहम्मद अजरुद्दीन

Mohammad Azharuddin (Photo by Michael Steele/EMPICS via Getty Images)

अपनी कलाईयों का जादू अजहर ने न सिर्फ बल्लेबाज़ी में बिखेरा बल्कि फील्ड में भी वो सबसे तेज़ तर्रार थे| स्लिप्स में उन्होंने ऐसे अदभुत कैच लिए हैं जिसका जिक्र मीडिया गलियारों में कम ही हुआ है| उनके साथ प्लस पॉइंट ये था की वो एक नेचुरल फूर्ती के धनी रणबाकुरे थे|

3. मोहम्मद कैफ

Mohammad Kaif (Photo by Santosh Harhare/Hindustan Times via Getty Images)

जब कैफ पॉइंट या कवर्स पर खड़े रहते थे तो रिकी पोंटिंग जैसे चुस्त रनर भी रन लेने से पहले दो दफा सोचते थे| वो भारत की फील्डिंग के सदाबहार नगीने हैं| आप सभी को याद होगा जब उन्होंने इंज़माम-उल-हक़ को प्रचंड फॉर्म में रन आउट किया था और इंदौर में हो रहे उस मैच में पाकिस्तान टीम की कमर तोड़ दी थी|

4. युवराज सिंह

Yuvraj Singh (Photo by JEWEL SAMAD/AFP/Getty Images)

कैंसर की बीमारी के बाद वाले युवराज और उसके पहले वाले फील्डर में बड़ा फर्क है, जिन्होंने युवी को सिर्फ इस दशक में देखा है उन्हें लगेगा की वो असाधारण फील्डर कभी नहीं रहे| लेकिन पूछना है तो जैक कैलिस और ग्रीम स्मिथ से पूछिए जब 2002 चैंपियंस ट्राफी सेमी फाइनल में युवी के दो कैचों ने प्रोटीयाज़ के जबड़े से मैच छीन लिया|

5. रविन्द्र जडेजा

Ravinda Jadeja (Photo by Kieran Galvin/NurPhoto via Getty Images)

निर्विवाद रूप से पिछले 10 सालों में भारत के सर्वश्रेष्ठ फील्डर और ऐसा सिर्फ उनकी ग्राउंड फील्डिंग देख कर नहीं कहा जा रहा| आप एक बार उनके थ्र्वोइन्ग आर्म की ताकत देख लीजिये, यकीन मानिये हक्के बक्के रह जायेंगे| जड्डू का जादू बेमिसाल है, एबी डीविल्लीएर्स ने कई बार उन्हें हलके में लेने की ग़लती की और विधिवत परिणाम भुगता| और उनको सिर्फ भारत का अच्छा फील्डर कहना, तौहीन होगी इस खिलाडी के कौशल और प्रतिभा की, वो विश्व के टॉप 3 क्षेत्ररक्षकों में अपना स्थान आसानी से बना लेंगे|