आकाश चोपड़ा बता रहे हैं कि विराट-BCCI के झगड़े में कौन सही है और कौन गलत ? - क्रिकट्रैकर हिंदी

आकाश चोपड़ा बता रहे हैं कि विराट-BCCI के झगड़े में कौन सही है और कौन गलत ?

8 दिसंबर को BCCI ने विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा को वनडे का कप्तान नियुक्त किया था।

Virat Kohli and Aakash Chopra. (Photo Source: Getty Images and Instagram)
Virat Kohli and Aakash Chopra. (Photo Source: Getty Images and Instagram)

पिछले कुछ दिनों से, भारतीय क्रिकेट के आसपास का माहौल बेहद अराजक हो गया है। विराट कोहली को एकदिवसीय कप्तान के रूप में बाहर करने के बाद, भारतीय प्रशंसकों को अभी तक पूरे मामले की स्पष्ट तस्वीर नहीं मिली है। इस वक्त हर कोई यही जानना चाहता है कि इस लड़ाई में कौन कितना सही बोल रहा है।

दरअसल सारा विवाद सौरव गांगुली और विराट के विरोधाभासी बयान के बाद शुरू हुआ। BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि उन्होंने खुद विराट कोहली को टी-20 कप्तानी नहीं छोड़ने का आग्रह किया था, इस बयान के ठीक एक दिन बाद विराट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि उन्हें किसी ने भी कप्तानी छोड़ने के लिए मना नहीं किया था।

विराट-BCCI मुद्दे पर फिर आकाश चोपड़ा ने दिया बड़ा बयान

इसी बीच पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने हाल ही में भारत के टेस्ट कप्तान और बीसीसीआई के बीच इस स्थिति पर अपना विचार साझा किया। चोपड़ा का मानना ​​है कि स्थिति को और बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था। क्रिकेटर से कमेंटेटर बने इस खिलाड़ी ने महसूस किया कि बोर्ड को क्रिकेटर के योगदान का सम्मान करना चाहिए।

अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने कहा कि, “इसको निश्चित ही बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था। कई ऐसी चीजें हैं, जो बेहतर तरीके से हो सकती थी, जहां उन्‍हें पूछने या फिर बातचीत की जरूरत है।” इस बीच पूर्व क्रिकेटर का यह भी मानना है कि कोहली को कोई भी बयान देने से पहले बीसीसीआई अधिकारियों के साथ सभी अनिश्चितताओं को स्पष्ट करना चाहिए था।

अंत में आकाश चोपड़ा ने कहा कि अफवाहों के बाजार को इस मामले से सबसे ज्‍यादा फायदा हुआ। उन्‍होंने कहा, “जनता के बीच गंदे कपड़े धोना कभी भी अच्‍छी चीज नहीं है। अफवाहों का बाजार फिर से गर्म हो चला है और फिर समान सूत्र, समान ड्रामा, हम स्‍क्‍वायर वन पर पहुंच गए, जो हम बिलकुल नहीं चाहते थे।”