आईपीएल में रिटेन करने पर होगा मंथन, जाने क्या है पूरा नियम - क्रिकट्रैकर हिंदी

आईपीएल में रिटेन करने पर होगा मंथन, जाने क्या है पूरा नियम

MS Dhoni
MS Dhoni. (Photo Source: Twitter)
आईपीएल 11 के लिए सरगर्मी तेज हो गयी है। इसे लेकर बोर्ड ने नये नियम जारी किया है। इसके तहत हर टीम दो या तीन खिलाड़ियों को रिटेन करते हुए अपने साथ रख सकती है। जबकि अन्य खिलाड़ियों का चयन ऑक्शन के तहत होगा। वहीं ऑक्शन में राईट टू मैच कार्ड में भी खिलाड़ियों को टीम के साथ जोड़ सकती है। इस पॉलिसी को लेकर लोगों में तरह-तरह के सवाल उठ रहे हैं। हरेक टीम रिटेन पॉलिसी और राइट टू मैच कैटगरी से खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है। लेकिन कोई भी टीम तीन से ज्यादा खिलाड़ियों को रिटेन नहीं कर सकती है।
अब हम आपको बताते हैं कि रिटेन पॉलिसी क्या है। इस नियम के तहत अगर कोई टीम दो खिलाड़ी को रिटेन पॉलिस के तरह रिटेन करती है तो वह टीम राईट टू मैच या फिर राइट टू मैच कार्ड के तहत तीन खिलाड़ियों को रिटेन कर सकेगी। राइट टू मैच के तहत लिए जाने वाले खिलाड़ियों के नाम का ऐलान ऑक्शन के दिन ही किया जायेगा। वहीं कोई टीम एक भी खिलाड़ी को रिटेन नहीं करती है तो वहं भी निलामी के वक्त तीन खिलाड़ियों को राइट टू मैच के तहत अपने साथ जोड़ सकती है।
राइट टू मैच के तहत किसी भी खिलाड़ी की, जिसकी सर्वाधिक बोली लगायी गयी है। उतना ही पैसा चुकाकर टीम फ्रेंचाइजी उसे अपने टीम में वापस ले सकती है। यदि टीम तीन खिलाड़ियों को रिटेन करती है तो उसकी सैलरी कैप 15 करोड़, 11 करोड़ और 7 करोड़ होगी, और अगर टीम दो प्लेयर्स को रिटेन करती है तो उसे पहले खिलाड़ी को 15 करोड़ रूपये जबकि दूसरे को 8.5 करोड़ रूपये देनी पड़ेगी। वहीं एक ही खिलाड़ी को रिटेन करने पर उसे अधिकतम 12.5 करोड़ रूपये देना होगा।
इसके अलावे बोर्ड ने आईपीएल की निलामी का कोटा भी बढ़ा दिया है। अब टीमों को खिलाड़ियों को खरीदने के लिये खर्च की सीमा 66 करोड़ से बढ़ाकर 80 करोड़ रूपये कर दी है। जबकि 2019 में यह सीमा बढ़कर 82 करोड़ और 2020 में 85 करोड़ रूपये हो जायेगी। इसमें से हर टीम को कम से कम 75 प्रतिषत राशि खर्च करनी पड़ेगी।
आईपीएल 2018 के लिये होने वाले ऑक्शन के लिए खिलाड़ियों के लिये राषि भी तय कर दी गयी है। किसी भी खिलाड़ी की सबसे कम बोली 40 लाख रूपये होगी। और हर फ्रेंचाइजी अपनी टीम में 25 खिलाड़ी रख सकेंगें। जबकि एक टीम में कम से कम 18 खिलाड़ी का होना अनिवार्य है। जिसमें 8 ही खिलाड़ी विदेशी होंगे।
फ्रेंचाइजी रिटेन के नये नियम तहत लिये गये वैसे खिलाड़ी होंगे….. जो भारत के लिए खेल चुके होंगे।  इसके साथ दो खिलाड़ी विदेशी होंगें….. अब देखना यह है कि ऑक्षन में कौन टीम किस खिलाड़ी को रिटेन करती है। और किसी बाहर करती है।