मेलबर्न में होने वाले बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच को लेकर ऑस्ट्रेलिया ने इस तेज गेंदबाज को किया अपनी टीम में शामिल - क्रिकट्रैकर हिंदी

मेलबर्न में होने वाले बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच को लेकर ऑस्ट्रेलिया ने इस तेज गेंदबाज को किया अपनी टीम में शामिल

साल 2018-19 की मार्श शेफील्ड शील्ड में प्लेयर ऑफ द ईयर का खिताब स्कॉट बोलेंड ने जीता था।

Australia vs England. (Photo by Mark Brake – CA/Cricket Australia via Getty Images)
Australia vs England. (Photo by Mark Brake – CA/Cricket Australia via Getty Images)

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने एशेज 202-22 की शानदार शुरुआत करते हुए टेस्ट सीरीज के शुरुआती दोनों ही मैचों में एकतरफा जीत हासिल की। जिसके बाद अब उनकी नजर मेलबर्न के मैदान पर खेले जाने वाले बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में जीत हासिल करते हुए सीरीज में अजेय बढ़त लेने पर होगी। जिसको लेकर ऑस्ट्रेलियाई टीम में अब तेज गेंदबाज स्कॉट बोलैंड को भी शामिल किया गया है।

जिसको लेकर टीम में अतिरिक्त तेज गेंदबाज को शामिल करने के पीछे मिचल स्टार्क के वर्कलोड को मैनेज करने की सोच शामिल है। जिसमें अभी तक स्टार्क इस सीरीज के शुरुआती 2 टेस्ट मैचों में लगातार खेलते हुए दिखाई दिए हैं और शानदार प्रदर्शन भी किया है। इससे पहले दूसरे टेस्ट मैच में जोश हेजलवुड अनफिट होने की वजह से नहीं खेल सके थे।

जबकि कप्तान पैट कमिंस भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने की वजह से दूसरे टेस्ट मैच से बाहर रहे थे। जिसके बाद इन दोनों ही अनुभवी तेज गेंदबाजों की टीम में वापसी तीसरे टेस्ट मैच में लगभद तय मानी जा रही है। वहीं बोलैंड जो साल 2018-19 की मार्श शेफील्ड शील्ड प्लेयर ऑफ द ईयर का खिताब जीत चुके है, उनके शामिल शामिल होने से स्टार्क को आराम करने का मौका मिल सकता है।

विक्टोरिया की तरफ से खेलने वाले स्कॉट बोलैंड काफी शानदार फॉर्म में चल रहे हैं, जिसमें उन्होंने न्यू साउथ वेल्स के खिलाफ सिर्फ 2 मैचों में 15 विकेट अपने नाम किए थे। वहीं टीम के साथ जुड़ने से पहले स्कॉट को इंग्लैंड लायंस के खिलाफ होने वाले मुकाबले में भी खेलना है।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपनी तरफ से एक बयान जारी करते हुए स्कॉट बोलैंड को टीम में शामिल किए जाने की जानकारी देते हुए बताया कि, एडिलेड में टीम के साथ अभ्यास करने वाले बोलैंड अब दूसरे टेस्ट मैच के साथ टीम का हिस्सा भी होंगे।

लगातार 2 हार से बेहद निराश दिखे इंग्लैंड कप्तान जो रूट

शुरुआती 2 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड के खिलाड़ियों की तरफ से एकबार भी मैदान में ऐसा खेल देखने को नहीं मिला जिससे यह लगे कि वह मेजबान टीम पर किसी तरह का दबाव बनाते हुए दिख रहे हैं। जिसको लेकर दूसरे टेस्ट मैच में टीम की शर्मनाक हार के बाद इंग्लैंड टेस्ट कप्तान जो रूट ने अपने बयान में निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि, हमने गेंदबाजी में बेहद खराब प्रदर्शन किया, जिसको लेकर अब हमें तीसरे टेस्ट मैच से पहले पूरी तरह सुधार करना होगा।

रूट ने अपने अपने बयान में बल्लेबाजी को लेकर भी कहा कि, वहां भी टीम के खिलाड़ियों को बेहतर तरीके से खेल दिखाने की कोशिश करनी होगी। क्योंकि अब हम कोई भी गलती नहीं कर सकते हैं। लेकिन मुझे विश्वास है कि हम यहां से चीजों को बदलने में कामयाब होंगे। जिसको लेकर सिर्फ हमें अपनी गलतियों पर रोक लगाने की जरूरत है।