अजीम रफीक पर लगा बड़ा आरोप, छह साल पहले किशोर लड़की को भेजा था अश्लील संदेश - क्रिकट्रैकर हिंदी

अजीम रफीक पर लगा बड़ा आरोप, छह साल पहले किशोर लड़की को भेजा था अश्लील संदेश

पिछले कुछ दिनों से यॉर्कशर के पूर्व क्रिकेटर अजीम रफीक नस्‍लवाद के आरोपों के चलते चर्चा में हैं।

Azeem Rafiq
Azeem Rafiq. (Photo by Charlie Crowhurst/Getty Images)

इंग्लैंड क्रिकेट में नस्लवाद के मुद्दे पर भूचाल मचा हुआ है। यॉर्कशायर के लिए कांउटी क्रिकेट खेल चुके स्पिनर अजीम रफीक इसके मुख्य बिंदु रहे हैं। रफीक ने हाल ही में एक के बाद एक कई खुलासे किए थे, जिससे इंग्लिश क्रिकेट की साख पर कई दाग लगे। इसके बाद अब अजीम रफीक खुद ही मुश्किलों में दिखाई दे रहे हैं।

अजीम रफीक पर छह साल पहले एक किशोर लड़की को ‘अश्लील’ संदेश भेजने का आरोप लगाया गया है। यॉर्कशायर पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार गायत्री अजीत जब 16 साल की थी तब उनकी मुलाकात रफीक से हुई थी। हालांकि गायत्री ने बताया कि वास्तविक उम्र ‘थोड़ी बड़ी’ दिखने के लिए उन्होंने रफीक को अपनी उम्र 17 साल बताई थी।

रिपोर्ट के अनुसार, गायत्री ने आरोप लगाया कि क्रिकेटर ने मैनचेस्टर से दुबई की उड़ान में मिलने के तीन महीने बाद दिसंबर 2015 में उसे वॉट्सएप पर अनुचित संदेश भेजे थे, इसके अलावा, गायत्री ने दुबई में रात के खाने के लिए रफीक के निमंत्रण को भी ठुकरा दिया। गायत्री ने रफीक के मोबाईल नंबर से दिसंबर 2015 में भेजे गये मैसेज के स्क्रीनशॉट अखबार को दिए, जिसमें अभ्रद भाषा का इस्तेमाल था जिसे देखकर वो काफी हैरान हुई थी।

अजीम रफीक ने हाल ही में किया था एक के बाद एक खुलासे]

रफीक के प्रवक्ता ने इस बारे में पूछे जाने पर अखबार से कहा, “यह मामला हमारे सामने शुक्रवार की देर शाम आया है। हमें इस पर गौर करने की जरूरत है,  इसलिए अभी टिप्पणी नहीं कर सकते।” यॉर्कशायर का यह पूर्व खिलाड़ी तब से सुर्खियों में हैं, जब उन्होंने यॉर्कशायर में अपने कार्यकालों के दौरान उनके साथ हुए अनुचित और जातिवादी व्यवहार पर खुल कर बात की, जिससे इंग्लैंड  क्रिकेट में गंभीर उथल-पुथल मच गई है।

अजीम रफीक ने हाल ही में खुलासा किया था कि एशियाई मूल के खिलाड़ियों को केविन नाम से बुलाया जाता था। यॉर्कशर के लिए खेलने के दौरान उन्हें अक्सर ‘पाकी’ कहा जाता था और अधिकारियों ने इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की इतना ही उन्होंने कहा कि जब वे 15 साल के थे तब उन्हें जबरदस्ती शराब भी पिलाई गई थी।