'जो रूट की जगह बेन स्टोक्स को बनाया जा सकता है इंग्लैंड का अगला कप्तान'- हार के बाद माइकल एथर्टन का बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

‘जो रूट की जगह बेन स्टोक्स को बनाया जा सकता है इंग्लैंड का अगला कप्तान’- हार के बाद माइकल एथर्टन का बयान

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच चौथा एशेज टेस्ट 5 जनवरी को खेला जाएगा।

Ben Stokes and Michael Atherton. (Photo Source: Getty Images)
Ben Stokes and Michael Atherton. (Photo Source: Getty Images)

इंग्लैंड एक पारी और 14 रन से बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच हार गया और उस हार के साथ, इंग्लैंड का ऑस्ट्रेलिया में एशेज जीतने का सपना एक सपना बनकर ही रह गया। जो रूट की कप्तानी में इंग्लैंड को आखिरी तीन एशेज सीरीज में हार का सामना करना पड़ा है। मौजूदा एशेज में अभी दो टेस्ट बाकी हैं और इंग्लैंड 5-0 के अंतर से एशेज हारने की कगार पर खड़ा है।

लगातार मिल रहे हार के बीच इंग्लैंड के कोच क्रिस सिल्वरवुड भी जांच के घेरे में आ गए हैं क्योंकि इंग्लैंड ने उनकी कोचिंग के तहत पिछले 12 में से केवल एक टेस्ट जीता है। सिल्वरवुड जनवरी 2018 से इंग्लिश टीम से जुड़े हुए हैं जब वह तेज गेंदबाजी कोच के रूप में शामिल हुए थे। अक्टूबर 2019 में, ट्रेवर बेलिस के जाने के बाद सिल्वरवुड को मुख्य कोच के पद पर पदोन्नत किया गया था।

सिल्वरवुड का पहले टेस्ट में पहले बल्लेबाजी करने और स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन को टीम से बाहर करने का फैसले पर कई सारे सवाल किए गए थे। दूसरे टेस्ट में, जैक लीच को प्लेइंग 11 से बाहर करने के लिए भी कोच सिल्वरवुड की आलोचना की गई थी। इस बीच पूर्व इंग्लिश खिलाड़ी माइकल एथर्टन ने इस हार को लेकर बड़ा बयान दिया है।

रूट की जगह किसी और को कप्तानी की जिम्मेदारी लेनी चाहिए- एथर्टन

द टाइम्स के लिए लिखते हुए एथर्टन ने कहा कि, “एशेज में इंग्लैंड से एक नहीं बहुत सारी गलतियां हुई हैं, सेलेक्शन से लेकर रणनीति बनाने तक, कप्तान को निजी तौर पर जिम्मेदारी लेनी चाहिये। यह सीरीज एकतरफा होने के बजाय ज्यादा करीब हो सकती थी अगर रूट मैदान पर सही फैसले लेने में कामयाब होते।”

उन्होंने आगे कहा कि, “रूट ने इंग्लैंड के लिये लंबे समय तक अच्छी कप्तानी की है और खेल के लिए हमेशा एक अच्छे एंबेसडर साबित हुए हैं। पर पांच साल से एक ही काम करते हुए आपको 3 बार एशेज खेलने का मौका मिला और दो बार ऑस्ट्रेलिया में आपने शर्मनाक प्रदर्शन किया। अब वक्त आ गया है कि किसी और को जिम्मेदारी लेनी चाहिए।”

अंत में एथर्टन ने अंत में कहा कि, “बेन स्टोक्स एक व्यवहार्य विकल्प हैं, जिन्होंने पिछले गर्मियों में स्टैंड-इन कप्तान के रूप में उत्कृष्ट काम किया था। उसकी गेंदबाजी धीमी होने लगी है और हो सकता है कि वह अब इंग्लैंड की सर्वश्रेष्ठ टी-20 टीम में शामिल न हो, इसलिए उन मैचों के दौरान उसे राहत दी जा सकती है।”