Big Bash League: विदेशी खिलाड़ियों के चयन के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने शुरू किया ‘ड्राफ्ट' सिस्टम - क्रिकट्रैकर हिंदी

Big Bash League: विदेशी खिलाड़ियों के चयन के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने शुरू किया ‘ड्राफ्ट’ सिस्टम

विदेशी खिलाड़ियों को नामित करने के लिए प्रबंधन समिति ने कुल चार श्रेणियां बनाई हैं।

Perth Scorchers (Photo by Robert Cianflone/Getty Images)
Perth Scorchers (Photo by Robert Cianflone/Getty Images)

दुनिया के सबसे प्रमुख फ्रेंचाइजी आधारित टूर्नामेंटों में से एक बिग बैश लीग (BBL) ने विदेशी खिलाड़ियों का चयन करने के लिए आगामी संस्करण के लिए ड्राफ्ट सिस्टम शुरू कर दी है। सभी फ्रेंचाइजियों को कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 3 खिलाड़ियों को चुनने की अनुमति होगी।

इसके लिए नामांकन पहले से ही खुल चुके हैं अब आने वाले महीनों में ड्राफ्ट की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी। विदेशी खिलाड़ियों को नामित करने के लिए प्रबंधन समिति ने कुल चार श्रेणियां बनाई हैं। ये सभी श्रेणियां हैं प्लैटिनम, गोल्ड, सिल्वर और ब्रोंज। हर श्रेणी में अलग-अलग खिलाड़ियों को उनके कीमत के आधार पर शामिल किया जाएगा।

कुछ इस तरह से लागू होगा बीबीएल का ड्राफ्ट सिस्टम

ड्राफ्ट आदेश एक भारित लॉटरी के माध्यम से तय किया जाएगा

BBL 11 में जो तीन टीमें फाइनल में शामिल नहीं हो सकी थी उनको पहली भारित लॉटरी में प्रवेश दिया जाएगा ताकि एक, दो और तीन का चयन निर्धारित किया जा सके।

इसके बाद पिछले सत्र के 5 फाइनलिस्टों को चार से आठ के चयन के लिए तैयार किया जाएगा

ड्राफ्ट राउंड:

ड्राफ्ट चार राउंड में होगा जिसमें हर क्लब के एक खिलाड़ी को चुना जाएगा सभी क्लब को कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 3 खिलाड़ियों को चुनने का मौका मिलेगा।

पहला राउंड केवल प्लैटिनम खिलाड़ियों के लिए है और उपरोक्त विधि के माध्यम से तैयार किए गए ड्राफ्ट ऑर्डर का पालन करेगा। राउंड दो भी राउंड एक की तरह ड्राफ्ट ऑर्डर का पालन करेगा।

प्रतिधारण चयन:

हर क्लब किसी भी ड्राफ्ट में सिर्फ एक प्रतिधारण का चयन कर सकता है।

एक खिलाड़ी प्रतिधारण के लिए योग्य तभी होगा, यदि उन्होंने पिछले सीजन में उस क्लब के लिए एक मैच खेला हो।

कुल खिलाड़ी और बदलाव

हर BBL क्लब में 18 खिलाड़ी होंगे जिनमें दो या तीन विदेशी खिलाड़ी ड्राफ्ट से शामिल किए जाएंगे और बाकी होंगे घरेलू खिलाड़ी ड्राफ्ट के बाद, क्लब 5 प्रतिस्थापन विदेशी खिलाड़ियों को अनुबंधित करने में सक्षम होंगे।