एशिया कप 2022: मैं चयनकर्ताओं की पसंद से काफी खुश हूं, टीम में सब बेहतरीन खिलाड़ियों को शामिल किया गया है: सबा करीम - क्रिकट्रैकर हिंदी

एशिया कप 2022: मैं चयनकर्ताओं की पसंद से काफी खुश हूं, टीम में सब बेहतरीन खिलाड़ियों को शामिल किया गया है: सबा करीम

आवेश खान ने अभी तक 13 टी-20 मुकाबलों में 31.82 के औसत और 8.68 के इकोनामी रेट से 11 विकेट झटके हैं।

saba karim and avesh khan (source-twitter)
saba karim and avesh khan (source-twitter)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व चयनकर्ता सबा करीम ने कहा है कि वो आगामी एशिया कप 2022 की भारतीय टीम और चयनकर्ताओं की पसंद से काफी खुश हैं। बता दें, एशिया कप 2022 के लिए BCCI ने टीम की घोषणा कर दी है। इस टूर्नामेंट के लिए विराट कोहली और केएल राहुल को टीम में वापस बुलाया गया है जबकि जसप्रीत बुमराह चोटिल होने की वजह से इस प्रतियोगिता में खेलते हुए नजर नहीं आएंगे।

इसी के साथ दो खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिनकी टीम में होने की किसी को उम्मीद नहीं थी लेकिन बोर्ड ने इनको भी शामिल किया है। ये हैं रविचंद्रन अश्विन और आवेश खान। भुवनेश्वर कुमार और अर्शदीप सिंह यह दो और विकल्प हैं जो आवेश के साथ तेज गेंदबाजों की सूची में शामिल किए गए हैं जबकि स्पिन डिपार्टमेंट में अश्विन के साथ रवि बिश्नोई, दीपक हुड्डा, रवींद्र जडेजा और युजवेंद्र चहल को भी टीम में शामिल किया गया है।

करीम ने स्पोर्ट्स-18 के शो में कहा कि, ‘यह काफी मुश्किल काम था लेकिन जिस तरीके से इस समय के भारतीय चयनकर्ताओं ने टीम को एशिया कप के लिए चुना हैं मैं उनसे काफी खुश हूं।

आप युवा खिलाड़ियों को थोड़ा मौका देकर बीच मझधार में नहीं छोड़ सकते: सबा करीम

वहीं टीम की घोषणा के बाद कई भारतीय प्रशंसकों का यह कहना था कि आवेश खान की जगह अनुभवी तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को टीम में लेना चाहिए था क्योंकि आवेश का प्रदर्शन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ज्यादा अच्छा नहीं रहा है। उन्होंने अभी तक 13 टी-20 मुकाबलों में 31.82 के औसत और 8.68 के इकोनामी रेट से 11 विकेट झटके हैं।

वहीं दूसरी ओर IPL 2022 में मोहम्मद शमी का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था और उन्होंने 20 विकेट झटके थे। उनके इस प्रदर्शन की वजह से गुजरात टाइटंस (GT) ने अपना पहला खिताब भी जीता था। हालांकि करीम का मानना है कि चयनकर्ताओं ने शमी के इस समय के फॉर्म को देखने के बजाए युवा खिलाड़ियों को मौका देने का सोचा है।

सबा करीम ने आगे कहा कि, ‘मुझे लगता है कि जब आपने एक बार आवेश खान जैसे युवाओं में निवेश किया है तब आपको उन्हें थोड़े मौके देकर बीच मझधार में नहीं छोड़ना चाहिए। कुछ युवा खिलाड़ियों ने बिल्कुल भी गलत नहीं किया। यह बात सही है कि इस समय मोहम्मद शमी का फॉर्म काफी अच्छा चल रहा है लेकिन मुझे लगता है कि चयनकर्ताओं ने भविष्य को सोच कर कई युवा खिलाड़ियों को मौका देने का फैसला किया है।