भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने लिया बड़ा फैसला, घरेलू मैच हुए स्थगित - क्रिकट्रैकर हिंदी

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने लिया बड़ा फैसला, घरेलू मैच हुए स्थगित

सीएसए ने कोविड-19 के प्रसार की आशंका के मद्देनजर ऐहतियात के तौर पर देश की प्रमुख चार दिवसीय घरेलू टूर्नामेट को स्थगित करने का फैसला किया है।

South Africa
South Africa. (Photo Source: Getty Images)

भारतीय टीम को तीन मैचों की एक बहुप्रतीक्षित टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका का सामना करना है जिसका आगाज 26 दिसंबर 2021 को सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट पार्क में होने वाला है। इसी बीच 19 दिसंबर को क्रिकेट साउथ अफ्रीका (CSA) ने देश में कोविड-19 के प्रसार की आशंका के मद्देनजर ऐहतियात के तौर पर देश की प्रमुख चार दिवसीय घरेलू टूर्नामेट को स्थगित करने का फैसला किया है।

सीएसए ने यह फैसला 19 दिसंबर को सेंचुरियन में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज शुरू होने से ठीक एक हफ्ते पहले किया है। इस खबर की पुष्टि दक्षिण अफ्रीकी बोर्ड अधिकारीयों ने एक बयान जारी करते हुए किया।

बयान में कहा उन्होंने कहा कि, “16-19 दिसंबर (डिवीजन दो) और दिसंबर 19-22 (डिवीजन एक) के बीच होने वाले मैचों के पांचवें दौर को स्थगित करने का निर्णय लिया गया है। कोविड-19 महामारी की नयी लहर और सुरक्षा उपायों के तहत मैचों के पांचवें दौर को स्थगित करने का निर्णय लिया गया है।”

भारत को दक्षिण अफ्रीका दौरे में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के अलावा तीन वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के बाद 19 जनवरी से दोनों देशों के तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जाएगी। इसी बीच भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर ने इस मैच को लेकर बड़ा बयान दिया है।

हरभजन सिंह ने दक्षिण अफ्रीका दौरे को लेकर दिया बड़ा बयान

पूर्व भारतीय गेंदबाज हरभजन सिंह ने कहा है कि आगामी दौरा भारत के लिए दक्षिण अफ्रीका में विजयी होने का एक सुनहरा अवसर प्रस्तुत करता है। हरभजन का मानना है कि, दक्षिण अफ्रीका के पास इस वक्त उतना मजबूत नहीं है जितना पहले हुआ करता था।

अपने यूट्यूब चैनल पर हरभजन ने कहा कि, “मेरा मानना ​​है कि दक्षिण अफ्रीका में अपनी पहली टेस्ट सीरीज जीतने का यह भारत के लिए सुनहरा मौका है। उनकी टीम पर नजर डालें तो वह उतनी मजबूत नहीं है जितनी पहले हुआ करती थी। यहां तक ​​कि पिछले दौरे में भी एबी डिविलियर्स और फाफ डु प्लेसिस जैसे खिलाड़ियों ने भारत को वहां कभी जीतने नहीं दिया।”