विराट ने भी माना एबी डिविलियर्स के बिना RCB है अधूरी, कहा- अभी भी उनको बहुत मिस करता हूं - क्रिकट्रैकर हिंदी

विराट ने भी माना एबी डिविलियर्स के बिना RCB है अधूरी, कहा- अभी भी उनको बहुत मिस करता हूं

डिविलियर्स 2011 से फ्रेंचाइजी के साथ जुड़े हुए थे और उन्होंने आरसीबी के लिए कई मैच विनिंग पारियां खेली थीं।

AB de Villiers and Virat Kohli
AB de Villiers and Virat Kohli. (Photo Source: Twitter)

क्रिकेट इतिहास के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक, एबी डिविलियर्स ने पिछले साल क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कह दिया। इससे पहले, डिविलियर्स ने 2018 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की, लेकिन इसके बाद वो टी-20 लीग में खेलते रहे थे। उन्होंने अपना आखिरी प्रतिस्पर्धी क्रिकेट इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेला था।

वह 2011 में आरसीबी से जुड़े थे और तब से उन्होंने आरसीबी के लिए कई मैच विनिंग परियां खेली थी। इस बीच आरसीबी के आधिकारिक ट्विटर पेज पर साझा किए गए एक वीडियो में, कोहली ने खुलासा किया कि वह अपने दोस्त और दक्षिण अफ्रीका के स्टार बल्लेबाज एबी डिविलियर्स को बहुत मिस करते हैं और यहां तक ​​​​कि उन्होंने एबी की संभावित वापसी के कुछ संकेत भी दिए।

क्या अगले साल फिर से आरसीबी टीम का हिस्सा बनेंगे एबी डिविलियर्स

विराट कोहली ने RCB के ट्विटर हैंडल पर साझा किए गए एक वीडियो में कहा कि, “मुझे एबी डिविलियर्स की बहुत याद आती है। मैं एबी डिविलियर्स से नियमित बात करता हूं। वह हाल ही में अपने परिवार के साथ गोल्फ देखने अमेरिका गए थे। वह आरसीबी के प्रदर्शन पर नजर रखते हैं और उम्मीद है कि अगले साल किसी भूमिका में टीम के साथ होंगे।”

यहां देखिए विराट कोहली का वो वीडियो

कोहली ने आगे मुस्कुराते हुए कहा, “इसलिए हम संपर्क में हैं और वह आरसीबी को बहुत उत्सुकता से देख रहे हैं और उम्मीद है कि अगले साल हमारी टीम में होंगे।” अपने बयान की गंभीरता को महसूस करने के बाद, कोहली ने हंसते हुए पूछा: “क्या मैंने कुछ हिंट्स दिए क्या?” यह बहुत निश्चित है कि डिविलियर्स एक खिलाड़ी के रूप में टीम में नहीं लौटेंगे और उन्हें केवल सहायक स्टाफ के सदस्य के रूप में ही टीम में शामिल किया जा सकता है।

इस बीच, डिविलियर्स की अनुपस्थिति के बावजूद, आरसीबी ने मौजूदा आईपीएल 2022 में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। अपने पहले 12 मैचों में से सात में जीत हासिल करने के बाद, फाफ डु प्लेसिस की अगुवाई वाली टीम प्लेऑफ की दौड़ में काफी मजबूत स्थिति में है। हालांकि, कोहली इस सीजन में बल्ले से कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं और वह जल्द से जल्द रन बनाना चाहेंगे।