पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने की भविष्यवाणी, इंग्लैंड की टीम का आर्चर के बिना एशेज जीतना नामुमकिन - क्रिकट्रैकर हिंदी

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने की भविष्यवाणी, इंग्लैंड की टीम का आर्चर के बिना एशेज जीतना नामुमकिन

'वे जोफ्रा आर्चर के बिना नहीं जीत सकते' - माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलिया को 2021-22 एशेज जीतने की भविष्यवाणी की

Michael Clarke and Jofra Archer. (Photo Source: Getty Images)
Michael Clarke and Jofra Archer. (Photo Source: Getty Images)

पूर्व ऑस्ट्रलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने एक बयान देते हुए कहा कि इंग्लैंड अपने तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर के बिना इस साल का एशेज नहीं जीत पाएगा। एशेज सीरीज इस साल के अंत में खेला जाएगा। 26 साल के जोफ्रा आर्चर पिछले कुछ समय से चोट से परेशान हैं। इस साल के शुरू से ही वह चोट की वजह से टीम से अंदर-बाहर हो रहे हैं। कुछ दिन पहले ही इस खबर की पुष्टि हुई है कि इस साल के अंत तक भी टीम में उनकी वापसी मुश्किल नजर आ रही है।

इस स्थिति को देखते हुए यह अंदाजा लगाना गलत नहीं होगा कि इंग्लैंड की टीम इस साल के एशेज में जोफ्रा आर्चर की गति और अनुभव के बिना ही मैदान पर उतरेगी। ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने भी मानसिक स्वास्थ्य का हवाला देते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अनिश्चिकालीन समय के लिए ब्रेक ले लिया है। इस वजह से उनका भी टी-20 वर्ल्ड कप और एशेज में ना खेलना एक चर्चा का विषय बन चुका है।

इंग्लिश टीम को खलेगी अनुभव की कमी

इस साल होने वाले एशेज में इंग्लैंड की टीम अनुभवहीन टीम और कमजोर शीर्ष क्रम के साथ जाएगी। इंग्लैंड के लिए पिछले दो ऑस्ट्रेलियाई एशेज दौरे बेहद निराशाजनक रहे हैं। 2013-14 में इंग्लैंड की टीम 5-0 से हार कर आई थी जबकि 2017-18 ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 से उसका सफाया किया था। फिलहाल एशेज ऑस्ट्रेलिया के हाथ में है।

तेज गेंदबाज और नाथन लायन से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद

शुक्रवार को स्काई स्पोर्ट्स के शो बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफास्ट पर बातचीत के दौरान पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान क्लार्क ने काफी कुछ कहा। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के लिए ऑस्ट्रेलिया में आर्चर के बिना जीतना काफी मुश्किल लग रहा है। बेन स्टोक्स और आर्चर इंग्लैंड की टीम का अहम हिस्सा हैं।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए क्लार्क ने कहा कि इस साल की शुरुआत में भारत से टेस्ट सीरीज हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया भी थोड़ा दवाब में होगा। हमारे गेदबाजों को भारत के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए था। हमारे तेज गेंदबाज और नाथन लायन को भारत के खिलाफ सटीक गेंदबाजी करना चाहिए था। हालांकि, उम्मीद यही है कि पिछले एक साल में हमने सुधार किया होगा। मुझे लगता है कि हमारी टीम इस साल की एशेज में बेहतर प्रदर्शन करेगी।