आखिरी टेस्ट रद्द होने के बाद इंग्लिश मीडिया ने रवि शास्त्री और भारतीय खिलाड़ियों पर साधा निशाना - क्रिकट्रैकर हिंदी

आखिरी टेस्ट रद्द होने के बाद इंग्लिश मीडिया ने रवि शास्त्री और भारतीय खिलाड़ियों पर साधा निशाना

ECB और BCCI ने कोरोना के खतरे को मद्देनजर रखते हुए मैनचेस्टर टेस्ट को रद्द करने पर सहमति जताई।

Indian head coach Ravi Shastri. (Photo by Satyabrata Tripathy/Hindustan Times via Getty Images)

इंग्लैंड और भारत के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट 10 सितंबर से ओल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर खेला जाना था। लेकिन, टेस्ट से एक दिन पहले भारतीय टीम के सहायक फिजियो के कोरोना संक्रमित हो जाने की वजह से इस मैच को रद्द कर दिया गया है। भारतीय खेमे में ये चौथा कोरोना मामला है। इससे पहले टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री, गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर भी संक्रमित हो चुके हैं और अभी आइसोलेशन में हैं।

भारतीय खेमे में कोरोना मामलों को मद्देनजर रखते हुए पांचवां टेस्ट रद्द किए जाने के बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड बिल्कुल भी खुश नहीं है। दरअसल, मुख्य कोच रवि शास्त्री और विराट कोहली सीरीज के दौरान एक बुक लॉन्च कार्यक्रम में शामिल हुए थे, जिसके बाद BCCI का अनुमान है कि भारतीय खेमे में कोरोना का आगमन उसी कार्यक्रम से हुआ।

इंग्लिश मीडिया ने भारतीय टीम पर साधा निशाना

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, ये कहा गया है कि, शुक्र है कि कल रात कुछ गलत नहीं हुआ और सभी खिलाड़ियों की टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है, लेकिन खेल के लिहाज से ये सही नहीं है। स्पष्ट रूप से भारत के कोच और खिलाड़ी बबल के बाहर जाकर जिस तरह से बुक लॉन्च कार्यक्रम में हिस्सा लिए थे, वो गैर-जिम्मेदाराना था। इस बात का खुलासा ओवल टेस्ट मैच से दो दिन पहले स्पोर्ट्स मेल द्वारा किया गया था।

हालांकि, बीसीसीआई सचिव जय शाह ने खिलाड़ियों और सभी कोचिंग स्टाफ को पहले ही आगाह कर दिया था कि वो कोरोना के खतरे को देखते हुए बबल से बाहर नहीं जाएंगे और किसी भी सार्वजनिक समारोह का हिस्सा नहीं होंगे। लेकिन अब ईसीबी ने इस पूरे मुद्दे के लिए जिस तरह से रवि शास्त्री और कोहली को जिम्मेदार ठहराया है, उससे BCCI के अधिकारी भी खुश नजर नहीं आ रहे हैं।