in ,

उठी मांग, पाकिस्तान लीग में खेलने वाले खिलाड़ियों को आईपीएल में किया जाए बैन

अगर बीसीसीआई ने उठा लिया यह बड़ा कदम तो बर्बाद हो सकता है पीएसएल

AB de Villiers of South Africa. (Photo by Anthony Au-Yeung/Getty Images)
AB de Villiers of South Africa. (Photo by Anthony Au-Yeung/Getty Images)

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में बाद लोगों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है। गुरुवार को सीआरपीएफ जवानों की बस पर हुए आत्मघाती हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इसे भारतीय सुरक्षाबलों पर हुआ सबसे बड़ा हमला भी कहा जा रहा है। हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने ली है। जब से नृशंस हमले के बाद से सभी चाहते हैं कि पाकिस्तान को सबक सिखाया जाए।

इस हमले ने क्रिकेट बिरादरी को भी झकझोर कर रख दिया है। खिलाड़ियों ने न केवल हमले की निंदा की है बल्कि शहीदों के परिवारों की मदद के लिए भी आगे आए हैं। इस हमले के बाद क्रिकेटप्रेमी भी पाकिस्तान को सबक सिखाना चाहते हैं। पाकिस्तान सुपर लीग के प्रसारणकर्ता डी स्पोर्ट्स ने इस टूर्नामेंट का प्रसारण बंद कर दिया है।

इतना ही नहीं लोग यह भी चाहते हैं कि पाकिस्तान सुपर लीग में खेल रहे विदेशी खिलाड़ियों को भी आईपीएल में प्रतिबंधित कर दिया जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि एबी डीविलियर्स, आंद्रे रसेल, किरोन पोलार्ड जैसे कई खिलाड़ी इस समय पीएसएल में खेल रहे हैं और आईपीएल में खेलने की तैयारी कर रहे हैं।

ट्विटर पर इस तरह दिखा रिएक्शन :

विक्रम कुमार ने ट्वीट कर कहा कि हमें पाकिस्तान को अलग थलग करने लिए साफ्ट पॉवर का इस्तेमाल करना चाहिए। आज से पीएसएल शुरू हो रहा है। हमें बीसीसीआई पर दबाव बनाकर उन विदेशी खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने की अनुमति नहीं देनी चाहिए।

संजीव ने ट्वीट कर कहा कि मैंने बीसीसीआई से अनुरोध किया कि वह पीएसएल में खेलने वाले आईपीएल के सभी विदेशी खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगाए।

प्रितिश वालिया ने ट्‍वीट कर कहा कि बीसीसीआई को पीएसएल में खेलने वाले सभी खिलाड़ियों को प्रतिबंधित कर देना चाहिए। आइए पाकिस्तान को सबक सिखाएं। खिलाड़ियों को इसका फैसला करने दें कि उन्हें आईपीएल में खेलना है या पीएसएल में।

Vijay Shankar (Photo by Gareth Copley/Getty Images)

इस तरह राहुल द्रविड़ ने विजय शंकर को बना दिया जबरदस्त मैच फिनिशर

Cricket World Cup trophy. (Photo Source: Twitter)

बीसीसीआई से हुई बड़ी चूक, वर्ल्ड कप की टीम जब तक घोषित करेंगे, दूसरी टीमें निकल चुकी होंगी आगे