मुंबई के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी का हुआ निधन, भारतीय क्रिकेट जगत ने दी उन्हें श्रद्धांजलि - क्रिकट्रैकर हिंदी

मुंबई के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी का हुआ निधन, भारतीय क्रिकेट जगत ने दी उन्हें श्रद्धांजलि

वासु परांजपे ने सुनील गावस्कर, दिलीप वेंगसरकर और रोहित शर्मा सहित कई अन्य प्रमुख क्रिकेटरों को सलाह और कोचिंग दी है।

Vasoo Paranjape and Jatin Paranjape. (Photo Source: Twitter)
Vasoo Paranjape and Jatin Paranjape. (Photo Source: Twitter)

मुंबई के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी और भारतीय क्रिकेट जगत में एक सफल कोच के तौर पर पहचाने जाने वाले वासु परांजपे का मुंबई में 82 वर्ष की उम्र में 30 अगस्त को निधन हो गया। उनका जन्म 21 नवंबर 1938 को गुजरात में हुआ था और वह पूर्व भारतीय खिलाड़ी जतिन परांजपे के पिता भी थे।

वासू परांजपे ने मुंबई के लिए साल 1957 से लेकर 1970 तक 29 प्रथम श्रेणी मैच खेले जिसमें उन्होंने 23.78 के औसत से 785 रन बनाए थे। इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और 2 अर्धशतकीय पारियां भी देखने को मिली थी। इसके अलावा गेंदबाजी में भी परांजपे ने 9 विकेट अपने नाम किए थे।

एक क्रिकेट खिलाड़ी के अलावा परांजपे ने भारतीय क्रिकेट दिग्गज खिलाड़ी जिसमें राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर, रोहित शर्मा के लिए एक मेंटर की भूमिका भी अदा की। इसके अलावा उन्होंने कई क्रिकेट खिलाड़ियों को उनके करियर में आगे बढ़ने में काफी सहयोग भी दिया। उन्हीं ने सुनील गावस्कर को सनी निकनेम भी दिया था।

रोहित शर्मा के करियर में निभाई अहम भूमिका

रोहित शर्मा जो आज के समय विश्व क्रिकेट में एक अलग पहचान बना चुके हैं, उन्होंने दिग्गज खिलाड़ी वासु परांजपे को लेकर बताया कि जब वह वानखेडे स्टेडियम अंडर-17 का ट्रायल दे रहे थे, तो उस समया वासु ने उन्हें नेट्स पर बल्लेबाजी करते हुए देखा और उसके बाद उन्होंने जाकर चयनकर्ताओं से कहा कि आप को भी 15 खिलाड़ियों का चयन करना है करिए मैं कोई दखलअंदाजी नहीं दूंगा लेकिन मुझे टीम में यह लड़का चाहिए।

इसके बाद टीम मेरी टीम के कप्तान प्रशांत नाइक ने मुझसे आकर कहा कि मैं तुम्हारे बारे में कुछ नहीं जानता हूं लेकिन वासु सर ने कहा है कि आपको खेलना है, तो आप कल का मैच खेलने वाले हैं।

वासु परांजपे कई वर्षों तक वह राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में एक कोच के रूप में सेवा देने के अलावा कई राष्ट्रीय युवा टीमों के कोच और प्रबंधन का कार्य भी करते थे।

यहां पर देखिए वासु के निधन पर सभी ने किस तरह किया उन्हें याद: