फरवरी 2018 में खेला जाएगा अनूठा क्रिकेट टूर्नामेंट, सेहवाग से लेकर अफरीदी जैसे दिग्गज खिलाड़ी लेंगे हिस्सा - क्रिकट्रैकर हिंदी

फरवरी 2018 में खेला जाएगा अनूठा क्रिकेट टूर्नामेंट, सेहवाग से लेकर अफरीदी जैसे दिग्गज खिलाड़ी लेंगे हिस्सा

Ice Cricket
Ice Cricket. (Photo Source: Twitter)

फरवरी 2018 में स्विट्जरलैंड की खूबसूरत धरती पर सेंट मौरिट्ज आइस क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया है। इस प्रतिस्पर्धा में टीम इंडिया के धुंआधार सलामी बल्लेबाज विरेन्दर सेहवाग हिस्सा लेने वाले है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी भी इस टूर्नामेंट से हाल ही में जुड़े है।

सेंट मौरिट्ज आइस क्रिकेट टूर्नामेंट 8 और 9 फरवरी 2018 को खेला जायेगा। दो दिनों तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में सेहवाग और अफरीदी के अलावा दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रिम स्मिथ भी हिस्सा लेने वाले है।

इस प्रतिस्पर्धा में भाग लेने वाले अन्य खिलाड़ियों में महेला जयवर्धने, लसिथ मलिंगा, शोएब अख्तर, मोहम्मद कैफ, ओवेस शाह, नेथन मैक्कुलम, ग्रांट इलियट, डेनियल विटोरी, माइकल हस्सी, जैक कालिस, मोंटी पनेसर जैसे दिग्गजों के नाम भी शामिल है। सभी दिग्गज खिलाड़ीयों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी लंबे अरसे तक प्रशंसकों का भरपूर मनोरंजन किया है।

टूर्नामेंट के आयोजक वीजे स्पोर्ट्स का दावा है कि उन्हें इस प्रतियोगिता का आयोजन करने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद से मंजूरी मिल गई है। आयोजकों के मुताबिक यह टूर्नामेंट दुनियाभर के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के लिए चुनौतीपूर्ण होगा क्योंकि यहां पर प्रतिकूल वातावरण में इन दिग्गज खिलाड़ियों के हुनर का कडा इम्तिहान होगा।

सेंट मौरिट्ज जो कि स्विट्जरलैंड स्थित विश्व के मशहूर प्रवासन आकर्षणों में से एक है और वहां पर दिन का न्यूनतम तापमान शून्य से माइनस 20 डीग्री सेल्सियस तक गिरने की संभावना रहती है। मौसम की ऐसी विषम परिस्थितियों में बर्फीली सतह पर क्रिकेट खेलना किसी चुनौती से कम नहीं है।

सेंट मौरिट्ज आइस क्रिकेट बीस ओवर का टूर्नामेंट है। बर्फ से लदें हुए मैदान पर बनावटी घास की परत बिछाकर खास “क्रिकेट पिच” तैयार कि जायेगी जिस पर दो दिनों तक क्रिकेट के दो रोमांचक मुकाबले खेलें जायेंगे। खिलाड़ी गेंदबाजी के लिए लाल गेंद का इस्तेमाल कर सकते है और बल्लेबाजों को भी सभी क्रिकेट उपकरणों का इस्तेमाल करने की मंजूरी दी गई है मगर उन्हें स्पाइक्स वाले जूतों की जगह स्पोर्ट्स के जूते पहनने होंगे।