गौतम गंभीर की तबियत तो सही है ना, वो विराट की तारीफ कर रहे हैं - क्रिकट्रैकर हिंदी

गौतम गंभीर की तबियत तो सही है ना, वो विराट की तारीफ कर रहे हैं

सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच केपटाउन में 11 जनवरी से खेला जाएगा।

Gautam Gambhir and Virat Kohli. (Photo Source: Getty Images)
Gautam Gambhir and Virat Kohli. (Photo Source: Getty Images)

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को लगता है कि टीम ने जोहान्सबर्ग टेस्ट के दौरान अपने नियमित कप्तान विराट कोहली को बहुत मिस किया, जहां भारत को 7 विकेट से हार मिली थी। कोहली, जिन्होंने सेंचुरियन में टीम को 113 रन से जीत दिलाई, वो पीठ के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण दूसरे टेस्ट से बाहर थे, जिस वजह से केएल राहुल को टेस्ट मैच में कप्तानी करने का मौक मिला।

इस बीच गंभीर का मानना है कि चाहे वह किसी भी तरह की फॉर्म में हों, कोहली टीम के महत्वपूर्ण खिलाड़ियों में से एक हैं और निश्चित रूप से टीम को कप्तान और बल्लेबाज दोनों की कमी महसूस हुई। हालांकि, गंभीर ने ये भी कहा कि जैसे-जैसे राहुल कप्तानी करेंगे वो इसमें और सुधार करेंगे। जोहान्सबर्ग टेस्ट बतौर कप्तान राहुल का पहला मैच था।

गौतम गंभीर कर रहे हैं विराट कोहली की तारीफ

इस बीच गंभीर ने विराट कोहली की तारीफ भी की। ये वही गौतम गंभीर हैं को बात-बात पर विराट कोहली की आलोचना करते फिरते हैं। स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान गंभीर ने कोहली को लेकर कहा कि, “बल्लेबाजी में देखें तो बेशक विराट कोहली की कमी महसूस हुई। स्टीव स्मिथ, जो रूट, केन विलियमसन और रोहित शर्मा ये ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके न होने पर उनकी कमी आपको खलती है।”

उन्होंने आगे कहा कि, इनक दिग्गजों का विकल्प ढूंढना आसान नहीं है, भले ही यह खिलाड़ी कितने ही खराब फॉर्म में क्यों न हो। वहीं कप्तान के तौर पर भी हमें विराट कोहली की कमी खली क्योंकि वो काफी अनुभवी हैं और अनुभवी खिलाड़ियों के लिए चीजें आसान हो जाती हैं। लेकिन केएल राहुल की बात करें तो वो जितना समय बिताएंगे उतना ही ज्यादा सीखेंगे।”

अंत में दिल्ली के सांसद ने कहा कि, “जितना जल्दी राहुल सीखेंगे उनके लिए उतना ही अच्छा होगा। ये वनडे और टी-20 की कप्तानी नहीं है जो आपके लिए आसान होगी। टेस्ट क्रिकेट में आपको विकेट खरीदने होते हैं और कभी-कभी आपको गैम्बल भी खेलना पड़ता है।”