कोरोना संक्रमित BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली की हालात को लेकर उनकी पत्नी डोना ने शेयर की यह अहम जानकारी - क्रिकट्रैकर हिंदी

कोरोना संक्रमित BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली की हालात को लेकर उनकी पत्नी डोना ने शेयर की यह अहम जानकारी

कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद सौरव गांगुली इस समय कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में भर्ती हैं।

Sourav Ganguly. (Photo by SAM PANTHAKY/AFP via Getty Images)
Sourav Ganguly. (Photo by SAM PANTHAKY/AFP via Getty Images)

28 दिसंबर 2021 की सुबह भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली के कोरोना संक्रमित होने की खबर सामने आई। जिसके बाद वह कोलकाता शहर के अस्पताल में डॉक्टरो की निगरानी में इस समय भर्ती हैं। वहीं सौरव के परिवार में उनकी पत्नी डोना गांगुली और बेटी सना गांगुली की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है।

वहीं सौरव गांगुली की हालात को लेकर उनकी पत्नी डोना ने सभी के जानकारी साझा की जिसमें वह इस समय पूरी तरह स्वस्थ बताए जा रहे हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार उनके परिवार के अनुसार गांगुली की तबियत इस समय पूरी तरह से ठीक है।

जिसमें डोना गांगुली के बयान के अनुसार, वह पूरी तरह से ठीक हैं और उन्हें किसी तरह की कोई शिकायत अब तक नहीं है। रविवार के दिन सौरव को हल्का बुखार और गले में दर्द की शिकायत के बाद उन्होंने तुरंत अपना कोरोना टेस्ट कराने का फैसला लिया।

अस्पताल की तरफ से भी जारी किया गया बयान

कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में सौरव गांगुली इस समय डॉक्टरों की निगरानी में अपना इलाज करा रहे हैं। जिसमें अस्पताल की तरफ से भी उनके स्वास्थ्य को लेकर जो जानकारी 28 दिसंबर को जारी की गई उसके अनुसार उन्हें मोनोक्लोनाल एंडीबॉडी कॉकटेल थेरेपी दी जा रही है।

वुडलैंड्स अस्पताल ने अपने मेडिकल बुलेटिन में बताया कि, BCCI अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली 27 दिसंबर की शाम को कोरोना संक्रमित होने के बाद भर्ती हुए थे, जिनकी हालात इस समय पूरी तरह से ठीक है। जिसमें वह डॉक्टर सूरज मोंडाल, डॉक्टर सप्तऋिषी बासु और डॉक्टर सौतिक पांडा की देखकर में हैं।

डोना गांगुली ने अपन बयान में यह भी बताया था कि, जिस समय सौरव को उनके कोरोना संक्रमित होने की खबर की पता चला उसके बाद उन्होंने खुद को पूरी तरह से आइसोलेट कर लिया था। बता दें कि इस समय पूरे देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से मालमों में काफी तेजी देखने को मिल रही है। जिसके चलते कई राज्यों ने अभी से एहतियात के तौर पर कदम उठाने शुरू कर दिए हैं।