मुझे लगता है कि शिखर धवन को चयनकर्ता अब टी-20 फॉर्मेट में आजमाना नहीं चाहते - सबा करीम - क्रिकट्रैकर हिंदी

मुझे लगता है कि शिखर धवन को चयनकर्ता अब टी-20 फॉर्मेट में आजमाना नहीं चाहते – सबा करीम

शिखर धवन को वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली पांच टी-20 मुकाबलों की सीरीज में भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया हैं।

Shikhar Dhawan (Photo Source: Twitter/BCCI)
Shikhar Dhawan (Photo Source: Twitter/BCCI)

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर सबा करीम का मानना है कि वनडे प्रदर्शन को देखते हुए शिखर धवन को भारतीय टी-20 टीम में जगह नहीं मिलेगी क्योंकि वह टी-20 क्रिकेट में चयनकर्ताओं की योजनाओं में नहीं हैं।

बता दें, शिखर धवन ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले वनडे मुकाबले में 97 रन की महत्वपूर्ण अर्धशतकीय पारी खेली थी। उनकी इस पारी की बदौलत भारत ने यह मुकाबला 3 रन से अपने नाम किया। वहीं धवन को वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली पांच टी-20 मुकाबलों की सीरीज में भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया है। यह टी-20 सीरीज तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज के बाद खेली जाएगी।

इंडिया न्यूज़ में बातचीत के दौरान करीम से जब पूछा गया कि शिखर धवन चयनकर्ताओं के चीजों की योजनाओं में शामिल हो सकते हैं या नहीं तो पूर्व क्रिकेटर ने जवाब दिया कि, ‘मुझे ऐसा नहीं लगता है कि। टी-20 फॉर्मेट काफी अलग है। टी-20 क्रिकेट की मांगे काफी अलग हैं। इस समय हम सब देख रहे हैं कि कितने बेहतरीन युवा खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से लोगों का दिल जीत रहे हैं। मुझे नहीं लगता कि चयनकर्ता शिखर धवन को टी-20 टीम में शामिल करने के बारे में सोचेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि, ‘मुझे लगता है कि शिखर धवन की वनडे क्रिकेट में जगह पक्की है। वो एक कमाल के ओपनर हैं। रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी सच में काफी शानदार है।

वनडे और टी-20 क्रिकेट में काफी फर्क है: सबा करीम

भारतीय पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा कि, ‘वनडे क्रिकेट में शिखर धवन का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है। उन्होंने इस फॉर्मेट में टीम के लिए लगातार रन बनाए हैं। स्ट्राइक रेट और औसत को हटा दिया जाए तो आपको खुद एक बल्लेबाज चाहिए जिसपर आप भरोसा कर सकते हैं।

सबा करीम का यह भी मानना है कि शिखर धवन और रोहित शर्मा की ओपनिंग जोड़ी ने मिडिल और निचले क्रम के बल्लेबाजों के ऊपर से दबाव पूरी तरह से हटा दिया है। इन दोनों बल्लेबाजों ने भारतीय टीम के लिए कई मुकाबलों में बेहतरीन शुरुआत दी है और टीम को जीत दिलाई है।