मुझे पूरी उम्मीद है कि आने वाले समय में हैरी टेक्टर और भी बेहतरीन बल्लेबाज बनकर उभरेंगे: हार्दिक पांड्या - क्रिकट्रैकर हिंदी

मुझे पूरी उम्मीद है कि आने वाले समय में हैरी टेक्टर और भी बेहतरीन बल्लेबाज बनकर उभरेंगे: हार्दिक पांड्या

हार्दिक पंड्या ने पहले टी-20 मुकाबले के बाद हैरी टेक्टर को अपना बल्ला तोहफे में दिया।

Harry Tector and Hardik Pandya.(Photo Source: Twitter)
Harry Tector and Hardik Pandya.(Photo Source: Twitter) खेलते हुए

26 जून को आयरलैंड के खिलाफ पहले टी-20 मुकाबले को काफी आसानी से अपने नाम पर कर लिया। इस जीत के हीरो रहे युजवेंद्र चहल, जिनकी घातक गेंदबाजी का मेजबान टीम के बल्लेबाजों के पास कोई जवाब नहीं था। हालांकि आयरलैंड की ओर से हैरी टेक्टर ने कमाल की बल्लेबाजी की।

टेक्टर ने इस मुकाबले में 33 गेंदों में 66 रन की नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली, जिसकी वजह से मेजबान टीम ने भारत के सामने 12 ओवरों में 109 रन का लक्ष्य रखा। उनकी इस बेहतरीन पारी के बाद भारतीय टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या ने टेक्टर की जमकर तारीफ की।

पहले टी-20 मुकाबले के बाद हार्दिक पांड्या ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि, ‘उन्होंने कुछ बेहतरीन शॉट्स खेले। वो अभी 22 साल के हैं। मैंने उन्हें अपना एक बल्ला दिया है। शायद वो कुछ और छक्के लगा पाए और क्या पता आने वाले समय में उन्हें IPL कॉन्ट्रैक्ट भी मिल जाए। मैं उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देना चाहता हूं। उन्हें खुद की देखभाल करनी होगी। उन्हें सही मार्गदर्शन की जरूरत है। आने वाले समय में हम उनको सिर्फ IPL में ही नहीं बल्कि और भी बहुत सारी टी-20 लीग्स में खेलते हुए देख सकते हैं।

ऐसा लग रहा था कि हम लोग भारत में ही खेल रहे हैं: हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या ने आगे कहा कि, ‘डबलिन में सभी लोगों ने हमारा अच्छी तरह से स्वागत किया। मैदान भी पूरी तरह से भरा हुआ था और कई लोग हमारा सपोर्ट कर रहे थे। बहुत अच्छा लग रहा था यहां खेलकर। ऐसा लग ही नहीं रहा था कि हम लोग आयरलैंड में खेल रहे हैं, बल्कि ऐसा लग रहा था कि हम लोग अपने भारत देश में ही खेल रहे हैं।

पांड्या ने आगे कहा कि, ‘जब बारिश हो रही थी तो मैं बस यहां पर आए हुए दर्शकों के बारे में सोच रहा था। हम लोग यहां पर काफी समय बाद क्रिकेट खेलने आए थे और तमाम दर्शक हमारे सपोर्ट में मुकाबला देखने आए थे। मैं नहीं चाहता था कि वह सब लोग बिना मुकाबला देखे ही वापस लौट जाएं। साथ ही आयरलैंड भी यही चाह रही होगी कि जल्द से जल्द बारिश बंद हो जाए और हम लोग मुकाबला खेल सके।