बतौर कप्तान बल्लेबाजी करते हुए काफी गर्व महसूस किया है, कप्तानी जाने के बाद विराट कोहली का बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

बतौर कप्तान बल्लेबाजी करते हुए काफी गर्व महसूस किया है, कप्तानी जाने के बाद विराट कोहली का बयान

वनडे और टी-20 की कप्तानी जाने के बाद विराट कोहली टेस्ट की कप्तानी करते रहेंगे।

Virat Kohli. (Photo by AAMIR QURESHI/AFP via Getty Images)
Virat Kohli. (Photo by AAMIR QURESHI/AFP via Getty Images)

टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने लगभग पांच वर्षों तक सभी प्रारूपों में भारतीय टीम का नेतृत्व करने के लिए आभार व्यक्त किया है। दिसंबर 2014 में, उन्होंने एमएस धोनी के टेस्ट क्रिकेट छोड़ने के बाद भारत के टेस्ट कप्तान के रूप में पदभार संभाला, जिसके बाद उन्होंने जनवरी 2017 से सीमित ओवरों के क्रिकेट में कार्यभार संभाला।

कप्तान बनने के बाद कोहली के बल्लेबाजी में काफी प्रगति देखने को मिली, हालांकि उन्होंने दो साल से अधिक समय से कोई अंतरराष्ट्रीय शतक नहीं बनाया है, लेकिन वह इसके बावजूद तीनों प्रारूपों में भारत की बल्लेबाजी का मुख्य आधार बने हुए हैं। टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत के अभियान से पहले, कोहली ने टीम इंडिया की टी-20 कप्तानी छोड़ने का फैसला किया।

वहीं भारत के दक्षिण अफ्रीका के आगामी दौरे से पहले, चयनकर्ताओं ने उन्हें एकदिवसीय टीम के कप्तान के रूप में भी हटा दिया। वनडे और टी-20 की कप्तानी से मुक्त होने के बाद, विराट कोहली ने कहा कि कप्तानी से हटने के बाद भी वह उसी प्रकार का प्रदर्शन करते रहेंगे जैसा वो पहले कर रहे थे।

कप्तानी जाने से मेरी बल्लेबाजी पर क्या असर पड़ेगा यह अभी नहीं बता सकता- विराट कोहली

दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट ने कहा कि, “मैं यह नहीं कह सकता कि कप्तानी जाने से मेरी बल्लेबाजी पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा या नहीं। इन बातों की भविष्यवाणी कोई नहीं कर सकता। मैंने बतौर कप्तान बल्लेबाजी करते हुए काफी गर्व महसूस किया है। मुझे इतना पता है कि अभी भी प्रेरणा का स्तर बिल्कुल भी कम नहीं होगा।”

कोहली भी पुराने दिनों को याद करते हुए भारतीय टीम की कप्तानी करने के अपने अनुभव के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि, “जहां तक ​​कप्तानी की बात है तो मैं अपने काम के प्रति पूरी तरह ईमानदार रहा हूं। यह सीमित ओवरों की कप्तानी का मेरा आकलन है। आप जानते हैं कि किस परिस्थिति में कैसे प्रदर्शन करना है, इसके लिए आपको अपनी भूमिका को समझकर उस हिसाब से प्रदर्शन करने की जरूरत है।”