in

भारत को जीतने के लिए फाइनल मैच में 217 रन का टारगेट

ऑस्ट्रेलिया की अंडर 19 टीम ने भारत के खिलाफ फाइनल मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया क्योंकी शाम

U-19 Team win
U-19 Team win (Photo Source : Twitter)

आईसीसी अंडर 19 विश्वकप का फाइनल मैच न्यूज़ीलैंड के बे ओवल में ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच में खेला जा रहा है. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और भारत के सामने फाइनल मैच को जीतने के लिए 217 का टारगेट दिया.

टॉस जीतकर ली बल्लेबाजी

ऑस्ट्रेलिया की अंडर 19 टीम ने भारत के खिलाफ फाइनल मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया क्योंकी शाम के समय तेज गेंदबाजों को लाभ मिल सके. ऑस्ट्रेलिया टीम के ओपनिंग बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 32 रन की साझेदारी की और ईशान पोराल ने मैक्स ब्रायंट के रूप में झटका दिया इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की टीम पहले 10 ओवर 52 रन पर 2 विकेट के नुकसान पर बना चुकी थी.

अंकुल रॉय और नागरकोटी ने कसा शिकंजा

ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को बीच के ओवरों में भारतीय गेंदबाजों ने खुलकर खेलने का मौका नही दिया और उनपर ना सिर्फ शिकंजा कसकर रखा बल्कि विकेट भी हासिल किये. ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज इस मैच में अधिक बड़ी साझेदारी बही कर सके कमलेश ने इस मैच में जहाँ 2 विकेट लिए वहीँ अंकुल ने भी 2 विकेट लेने का काम किया.जिस कारण ऑस्ट्रेलिया की टीम बीच के ओवर में अधिक खुलकर बल्लेबाजी नहीं कर सकी.

जोनाथन मार्लो ने पहुँचाया सम्मानजनक स्कोर तक

ऑस्ट्रेलिया टीम के बल्लेबाज जोनाथन मार्लो ने एक छोर को संभाले रखा जिस कारण ऑस्ट्रेलिया की टीम इस मैच में एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुँच सकी. ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत के खिलाफ फाइनल मैच में 216 रन बनाकर आलआउट हो गयीं और भारतीय टीम को अब इतिहास रचने के लिए 217 रन बनाने होंगे जिसके लिए कप्तान पृथ्वी शॉ और शुभमान गिल को अहम भूमिका भारतीय पारी के दौरान निभानी होगी. इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने अपनी भूमिका को तो काफी बेहतर तरीके से निभा दिया है लेकिन अब विश्वकप जीतने का पूरा जिम्मा बल्लेबाजों पर आ गया है.

Faf du Plessis

फाफ डू प्लेसि भी चोट के कारण भारत के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज से हुए बाहर

Virat-Kohli-and-MS-Dhoni

जब धोनी से पूछे बिना कोहली ने लिया डीआरएस, फैसला हुआ गलत