यदि रजत तेजी के साथ रन ना बनाते तो विराट के लिए रन बनाना आसान नहीं होता - आकाश चोपड़ा - क्रिकट्रैकर हिंदी

यदि रजत तेजी के साथ रन ना बनाते तो विराट के लिए रन बनाना आसान नहीं होता – आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा का मानना है कि विराट की पारी काफी अच्छी थी लेकिन जब टीम को तेजी से रन बनाने की जरूरत थी तब वो अपना विकेट गंवा बैठे।

Rajat Patidar & Virat Kohli (Image Source: BCCI/IPL)
Rajat Patidar & Virat Kohli (Image Source: BCCI/IPL)

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2022 सीजन में 30 अप्रैल को खेले गए मुकाबले में गुजरात टाइटंस (GT) ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) को 6 विकेट से मात दी। इस मुकाबले में विराट कोहली ने इस सीजन का अपना पहला अर्धशतक जड़ा। बहुत समय से कोहली का बल्ला खामोश था लेकिन शुक्रवार को हुए इस मुकाबले में उनका बल्ला जोर-शोर से बोला।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी RCB की टीम ने 20 ओवर में विराट कोहली और रजत पाटीदार के अर्धशतक की बदौलत 170 रन बनाए। विराट ने 53 गेंदों में 58 रन बनाए तो वहीं रजत ने 32 गेंदो में 52 रन की पारी खेली। यही नहीं दोनों खिलाड़ियों के बीच में दूसरे विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी भी हुई। पहला विकेट जल्द गिरने के बाद दोनों ने पारी को संभाला और टीम को अच्छे स्थिति पर लाकर खड़ा कर दिया। विराट कोहली के फॉर्म में आने के बाद उनके फैंस काफी खुश हैं।

इसी के साथ पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कमेंटेटर अकाश चोपड़ा ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो शेयर की है जिसमें उन्होंने रजत पाटीदार की बल्लेबाजी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है।

उन्होंने रजत की तारीफ करते हुए कहा कि, फाफ डु प्लेसिस 0 पर आउट हो गए थे जिसके बाद रजत पाटीदार ने कोहली के साथ मिलकर काफी अच्छी साझेदारी की। रजत ने अभी तक एक भी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला नहीं खेला है लेकिन जिस तरीके से उन्होंने गुजरात के खिलाफ बल्लेबाजी की वो देखना काफी सराहनीय था। अगर वह तेज पारी ना खेलते तो शायद विराट कोहली अपना अर्धशतक नहीं जड़ सकते थे।

आप ये देख सकते हैं कि कोहली की पारी काफी धीमी थी लेकिन इसमें रजत की कोई गलती नहीं थी। बैंगलोर को इससे ज्यादा भुगतना पड़ सकता था अगर पाटीदार ने इस गति से रन ना बनाए होते तो। बता दें रजत पाटीदार ने अपनी पारी में 5 चौके और 2 छक्के मारे थे। उनका विकेट प्रदीप सांगवान ने लिया था।

विराट कोहली से ये उम्मीद थी कि वो और तेजी से रन बनाए: आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा का मानना है कि विराट की पारी काफी अच्छी थी लेकिन जब टीम को तेजी से रन बनाने की जरूरत थी तब वो अपना विकेट गंवा बैठे। पिच पर टिकने के बाद विराट को तेजी से रन बनाने चाहिए थे लेकिन वो ऐसा कर ना पाए। विराट जब आउट हुए तो उनका स्ट्राइक रेट 109 का था। उन्होंने कहा कि एक समय टीम को 190 तो दूर की बात है 170 तक पहुंचना मुश्किल लग रहा था।

आकाश चोपड़ा ने ग्लेन मैक्सवेल और महिपाल लोमरोर की तारीफ की और कहा कि, मैक्सवेल ने काफी अच्छा खेला और उसके बाद महिपाल ने आखिर में टीम को 170 के स्कोर तक पहुंचाया जो मुझे काफी अच्छा स्कोर लगा इस पिच पर। लेकिन सच्चाई यही है कि RCB अगर थोड़ा और तेज खेलती तो टीम 185- 190 के बीच तक बना लेती।

बात दें कि, मैक्सवेल ने 18 गेंदों में 33 रन और महिपाल ने 8 गेंदों में 16 रन बनाए थे जिसकी वजह से RCB ने गुजरात के सामने 171 रन का लक्ष्य रखा। जवाब में गुजरात ने ये मुकाबला 6 विकेट से जीत लिया।