भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच वायरल हुए गुटखा फैन ने अब सभी को दिया यह संदेश - क्रिकट्रैकर हिंदी

भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच वायरल हुए गुटखा फैन ने अब सभी को दिया यह संदेश

भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच पहले टेस्ट मैच के पहले दिन एक फैन को स्टैंड में गुटखा खाते हुए देखा गया।

Cricket Fan. (Photo Source: Twitter)
Cricket Fan. (Photo Source: Twitter)

भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच में इस समय कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में 2 मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा है। इस टेस्ट मैच के पहले दिन के खेल के दौरान एक फैन जिसका नाम शोभित पांडे बताया जा रहा वह सोशल मीडिया पर एक गलत कारण के चलते काफी तेजी से वायरल हो गया। यह फैन स्टैंड में बैठे मैच का आनंद ले रहा था, और जिस समय कैमरे की उसपर नजरें गई तो फोन पर बात करते हुए खेल का लुत्फ उठाते हुए देखा गया।

वहीं इस दौरान सभी को लगा कि वह गुटखा भी खा रहा है। जिसके चलते पूर्व भारतीय खिलाड़ी वसीम जाफर ने एक मीम शेयर किया और यहां से इस फैन का यह फोटो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो गया। इस पर कानपुर के कॉमेडियन अनू अवस्थी ने भी एक 3 मिनट का वीडियो बनाते हुए बताया कि किस तरह कानपुर के लोग गुटखा खाने की स्टाइल है।

इस फैन ने खुद को सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद अपने बयान में कहा कि वह स्टेडियम में मैच का आनंद लेने के लिए अपनी बहन के साथ गया था। वहीं इसके बाद शोभित ने बताया कि वह गुटखा नहीं खा रहा था, क्योंकि इसे स्टेडियम के अंदर लेकर जाना पूरी तरह से प्रतिबंधित था। बल्कि वह उस दौरान मीठी सुपारी खा रहा था जिस दौरान कैमरे में उसे मैच के दौरान दिखाया गया था।

शोभित पांडे ने आगे कहा कि वह अब यह प्रतिज्ञा लेता है कि वह कभी गुटखा नहीं खाएगा। यहां तक की दूसरे दिन के खेल के दौरान वह स्टेडियम में एक पोस्टर लेकर पहुंचे जिसे वह अपने गले में टांगे हुए थे। इस पोस्टर में लिखा हुआ था कि, गुटखा खाना गलत बात है।

तीसरे दिन के पहले सेशन में भारत ने झटके 2 विकेट

दूसरे दिन का खेल जिस समय समाप्त हुए तो न्यूजीलैंड टीम के ओपनिंग बल्लेबाजों ने शानदार शुरुआत करते हुए बिना किसी नुकसान के 129 रन बना लिए थे। जिसके बाद तीसरे दिन के पहले सत्र के खेल के दौरान भारतीय गेंदबाजों ने वापसी करते करते हुए 2 अहम विकेट अपने नाम किए। हालांकि कीवी टीम के ओपनिंग बल्लेबाज टॉम लेथम ने एक छोर से रन बनाने का जिम्मा जारी रखा हुआ था। भारतीय टीम इस मैच की पहली पारी में 345 रन बनाने के बाद सिमट गई थी।