टी-20 वर्ल्ड कप में लोकेश राहुल को लेकर इस पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने भारतीय टीम को दी यह अहम सलाह - क्रिकट्रैकर हिंदी

टी-20 वर्ल्ड कप में लोकेश राहुल को लेकर इस पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने भारतीय टीम को दी यह अहम सलाह

ब्रेट ली ने लोकेश राहुल की तारीफ करते हुए कहा कि वह इस टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बना सकते हैं।

KL Rahul of India celebrates reaching his century. (Photo by Gareth Copley/Getty Images)
KL Rahul of India celebrates reaching his century. (Photo by Gareth Copley/Getty Images)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 की शुरुआत 17 अक्टूबर से ओमान और यूएई में होगी जिसको लेकर इसमें हिस्सा लेने वाली सभी टीमें वहां पर पहुंच चुकी हैं। सबसे पहले ओमान में क्वालिफायर राउंड के मैच खेले जायेंगे जिसके बाद 23 अक्टूबर सुपर-12 के मुकाबले खेले जायेंगे। इसी बीच पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने भारत को इस बार कप का प्रमुख दावेदार माना है। जिसमें उन्होंने कहा कि भारत इस समय सभी फॉर्मेट में शानदार खेल दिखा रहा है और आईपीएल की वजह से युवा खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित कर रहे हैं।

इसी बीच ब्रेट ली ने लोकेश राहुल का खास जिक्र करते हुए कहा कि भारतीय टीम के लिए वह टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे अहम खिलाड़ी साबित होने वाले हैं। पूर्व खिलाड़ी का मानना है कि जिस तरह से साल 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ने जीत हासि की थी, कुछ वैसा ही इस बार भी देखने को मिल सकता है। भारत इस मेगा इवेंट में अपने अभियान की शुरुआत 24 अक्टूबर से पाकिस्तान के खिलाफ करेगी।

ब्रेच ली का फॉक्सस्पोर्ट्स डॉट कॉम डॉट एयू में छपे बयान के अनुसार, इंग्लैंड जरूर एक बड़ा खतरा साबित होगी क्योंकि उनके पास शानदार टीम है। लेकिन भारत इस कप को जीतने का सबसे बड़ा दावेदार है। इंडियन प्रीमियर लीग के कारण भारतीय टीम इस समय सभी फॉर्मेट में शानदार खेल दिखा रही है। उनके पास गेंदबाजी में जहां शानदार विकल्प हैं तो वहीं ऊपरी क्रम की बल्लेबाजी भी काफी शानदार है।

लोकेश राहुल बना सकते हैं सबसे ज्यादा रन

लोकेश राहुल को लेकर ब्रेट ली ने अपने इस बयान में खासतौर पर जिक्र करते हुए कहा कि वह इस टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन सकते है। क्योंकि आईपीएल में भी उनका शानदार फॉर्म देखने को मिला है, जहां पर उन्होंने 600 से ज्यादा रन बनाए हैं। इससे कोहली और रोहित पर दबाव काफी हो जाएगा और वह स्वाभाविक तौर पर खेल सकते हैं।