पाकिस्तान को हराने के बाद हार्दिक पांड्या अपने पापा को याद कर रोने लगे... - क्रिकट्रैकर हिंदी

पाकिस्तान को हराने के बाद हार्दिक पांड्या अपने पापा को याद कर रोने लगे…

ऑस्ट्रेलिया के एमसीजी में भारत-पाक मुकाबले में टीम इंडिया ने 4 विकेट से रोमांचक जीत दर्ज की।

Hardik Pandya (Image Credit- Twitter)
Hardik Pandya (Image Credit- Twitter)

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में सुपर 12 राउंड शुरू होने के बाद आज दूसरे दिन 23 अक्टूबर को दूसरा मुकाबला भारत और पाकिस्तान के बीच ऑस्ट्रेलिया के ऐतिहासिक मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेला गया। रोमांचक मैच में टीम इंडिया ने 4 विकेट से जीत दर्ज की है।

टीम इंडिया को इस मैच में पाकिस्तान के खिलाफ जीत दर्ज कराने में पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पाकिस्तान से मिले 160 रनों के लक्ष्य को टीम इंडिया ने आखिरी गेंद पर हासिल की। कोहली ने इस मैच में 53 गेंदों में छह चौके और चार छक्कों की मदद से नाबाद 82 रन बनाए और टीम इंडिया की नैया पार लगाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

संकटमोचक बने विराट कोहली

एक समय इस मैच में पिछड़ चुकी टीम इंडिया को विराट और हार्दिक पांड्या की पांचवें विकेट की साझेदारी ने भी खेल में बड़ा अंतर पैदा कर दिया। दोनों ही बल्लेबाजों ने पांचवें विकेट के लिए 113 रनों की मैच विनिंग साझेदारी की और टीम इंडिया को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया।

हार्दिक हुए भावुक

पाकिस्तान से मिली इस जीत के बाद टीम इंडिया के दिग्गज ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या भावुक होते नजर आए हैं। सोशल मीडिया पर उनके इमोशनल होने का एक वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें पांड्या की आंखें नम है। बता दें कि ट्विटर पर कुछ फैंस ने हार्दिक पांड्या का यह वीडियो शेयर किया है।

बता दें कि हार्दिक द्वारा क्रिकेट में नाम कमाने के पीछे उनके पिता हिमांशु पांड्या का बड़ा योगदान है। और पाकिस्तान के खिलाफ मैच में टीम इंडिया को जीत दिलाने के बाद वह अपने दिवंगत पिता को याद करते हुए, वह काफी इमोशनल हो गए।

मैच खत्म होने के बाद उन्होंने बयान में कहा ‘मैंने मैच से पहले राहुल सर से कहा कि जहां में 10 महीने पहले था और अब जहां हूं वह बहुत बड़ी बात है। मैं इस चीज के लिए कड़ी मेहनत करता हूं और यह पारी मेरे पापा के लिए है। वह यहां होते तो बहुत खुश होते, अगर मुझे खेलने का मौका नहीं मिलता तो मैं यहां कैसे खड़ा होता। मेरे पापा ने मेरे लिए कई त्याग किए हैं। उन्होंने हमारी खातिर दूसरे शहर जाने का फैसला किया, जब हम दोनों भाई 6 साल के थे तो उन्होंने शहर बदल दिया, मैं हमेशा अपने पापा का आभारी रहूंगा।’

गौरतलब है कि हार्दिक पांड्या के भाई कुणाल पांड्या भी क्रिकेटर हैं और दोनों भाइयों को इस मुकाम तक पहुंचाने में उनके पिता हिमांशु पांड्या ने बहुत बड़ा योगदान दिया है। जैसा कि हार्दिक ने बताया कि क्रिकेट में करियर बनाने के लिए वह परिवार समेत सूरत से बड़ौदा आ गए थे और जब तक हार्दिक ने 2013-14 सीजन में बड़ौदा के लिए घरेलू क्रिकेट नहीं खेलना शुरू किया था, उससे पहले उनके पिता ने उनके लिए काफी संघर्ष किया था।

यहां देखें हार्दिक का वो इमोशनल वीडियो

वहीं मैच का हाल बताएं तो टीम इंडिया ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया और पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शान मसूद (52 रन) और इफ्तिकार अहमद (51 रन) की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 159 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने विराट कोहली के नाबाद 82 और हार्दिक पांड्या के 40 रनों की बदौलत इस लक्ष्य को 6 विकेट खोकर हासिल कर लिया।