चेन्नई सुपर किंग्स की इस आईपीएल सीजन पहली हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने दिया ये बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

चेन्नई सुपर किंग्स की इस आईपीएल सीजन पहली हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने दिया ये बयान

MS Dhoni
MS Dhoni of Chennai Super Kings in action. (Photo by: Surjeet Yadav/IANS)

इंडियन प्रीमियर लीग के 11 वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स का चला आ रहा आज किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मोहाली के मैदान में रुक गया जहाँ पर आज टीम को अपने इस सीजन के तीसरे मैच में 4 रन से हार का सामना करना पड़ा.

चेन्नई सुपर किंग्स ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला लिया था जिसके बद किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से ओपनिंग करने के लिए उतरे क्रिस गेल और लोकेश राहुल ने टीम को एक तेज़ शुरुआत देने का काम किया और पहले 6 ओवर में टीम का स्कोर 75 रनों पर पहुंचा दिया जिसके बाद इन दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए इस मैच में 96 रन की साझेदारी करके टीम के लिए एक बड़े स्कोर की नीव रख दी.

किंग्स एकेवन पंजाब के मध्यक्रम ने इस अच्छी शुरुआत का लाभ नहीं उठा सका और चेन्नई को वापसी का मौका दे दिया जब उन्होंने टीम के 4 विकेट काफी कम अंतराल पर गिरा लिए जिसके बाद करुण नायर ने अंत में टीम के लिए अच्छी बल्लेबाज़ी करते हुए स्कोर को 197 रन तक ले जाने का काम किया.

इस मैच में चेन्नई सुपर किंग्स की पूरी बल्लेबाज़ी आज महेंद्र सिंह धोनी के आसपास ही थी जिन्होंने भले ही टीम को सी मैच में 4 रन की हार से ना बचा सके हो लेकिन काफी लम्बे समय के बाद सभी को विंटेज धोनी देखने को मिला जिन्होंने चेन्नई की इस मैच में जीत की उम्मीद अंतिम 3 गेंदों तक जगा कर रखा लेकिन जीत ना दिला सके. धोनी ने इस मैच में 79 रन की नाबाद पारी खेली.

हमें सुधार की जरुरत है

महेंद्र सिंह धोनी ने इस सीजन की पहली हार मिलने के बाद कहा कि “मेरे दिमाग में इस समय बहुत कुछ नहीं चल रहा है. उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की मुजीब ने इस मैच में अंतर पैदा किया. मुझे नहीं लगता कि इस समय काफू ओस थी उन्होंने हमसे काफी अच्छा खेला. हमें कुछ जगहों पर सुधार की जरूरत है. क्रिस ने पहली पारी में बल्लेबाज़ी से और फिर दूसरी पारी में मुजीब ने गेंदबाजी से इस मैच में अंतर पैदा कर दिया. ये एक काफी करीबी मैच था. हम एक अच्छी फील्डिंग टीम ना की बहुत अच्छी हमें गेंदबाज़ी में थोडा चालक बनने की जरूरत है.”

“अभी तक हमने जितने भी मैच खेले है वह काफी करीबी रहे है. ब्रावो को जल्दी उपर भेजने का निर्णय डग आउट में बैठे कोच फ्लेमिंग को लेना था हमें जड़ेजा पर भी पूरा विश्वास है क्योंकि किसी भी गेंदबाज़ के लिए दायें और बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए गेंदबाज़ी करना आसान काम नहीं है. रैना के टीम में ना होने से हमें जड़ेजा को ये अवसर देना होगा. मैं उसके साथ खड़ा हूँ. मैं अभी अपनी कमर की चोट के बारे में अधिक नहीं बता सकता लेकिन वह अब कुछ ठीक है. भगवन ने मुझे काफू शक्ति दी है तो मुझे इन सब चोट से अधिक असर नहीं पड़ता है आपको खेल के दौरान थोडा कठोर बनना पड़ता है.”