चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ हार के बाद विराट ने अपनी टीम की इस वजह को बताया हार का सबसे बड़ा कारण - क्रिकट्रैकर हिंदी

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ हार के बाद विराट ने अपनी टीम की इस वजह को बताया हार का सबसे बड़ा कारण

Virat Kohli
Royal Challengers Bangalore’s Virat Kohli reacts after getting dismissed. (Photo by IANS)

रॉयल चेलेंजर्स बेंगलौर टीम को इंडियन प्रीमियर लीग के इस 11 वें सीजन में आज 9 वें मैच में 6 वीं हार का सामना करना पड़ा जिसके बाद अब टीम की इस सीजन में प्लेऑफ में पहुँचने की उम्मीद लगभग खत्म हो चुकी है. चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ पुणे में खेले गएँ मैच में 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा.

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का निर्णय लिया जिसके बाद आरसीबी की तरफ से बल्लेबाज़ी के लिए उतरे पार्थिव और मक्कुलम जोड़ी कोई अधिक योगदान नहीं दे सकी और मक्कुलम इस मैच में 5 रन बनाकर चलते बने. कप्तान विराट कोहली इस मैच में तीसरे नंबर पर बल्लेबाज़ी के लिए उतरे लेकिन वह भी अधिक कुछ इस मैच में नहीं कर सके और सिर्फ 8 रन बनाकर आउट हो गयें.

एबी डी विलियर्स जो इस मैच में फिट होने के बाद वापसी कर रहे थे उसने टीम को काफी उम्मीद थी लेकिन वह भी अधिक कुछ नहीं कर सके और सिर्फ 1 रन बनाकर वापस लौटे गयें इसके अब्द आरसीबी की बल्लेबाजी पूरी तरह से ढह सी गयीं सिर्फ पार्थिव पटेल ने इस मैच में 53 रन की और अंत में टिम साउदी ने 36 रनों की पारी खेलकर टीम के स्कोर को 127 रनों तक पहुँचाने में विशेष योगदान दिया था.

इतने कम स्कोर का जब पीछा करने के लिए चेन्नई सुपर किंग्स की टीम मैदान में आयीं तो उनकी शुरुआत भी अच्छी नहीं हुयीं और वाट्सन के रूप में टीम का पहला विकेट सिर्फ 18 के स्कोर पर गिर गया लेकिन इसके बाद रायडू और रैना ने मिलकर हमला बोल दिया और आरसीबी की टीम को इस मैच से लगभग बाहर कर दिया. इसके बाद हर बार की तरह इस मैच का भी अंत महेंद्र सिंह धोनी ने ही किया जिन्होंने इस मैच में 31 रनों की नाबाद पारी खेली.

हमारे लिए और कठिन हो गयीं है आगे की राह

वीर कोहली ने इस मैच में हार के बाद कहा कि “मुझे लगता है कि ये एक करीबी मैच हो सकता था. हमने इस मैच में वापसी का प्रयास किया लेकिन 2 कैच छूट जाने के कारण हम इस मैच में दबाव नहीं बना सके. ये हमारे लिए एक अछ दिन नहीं था. क्योंकिं 6 विकेट काफी सॉफ्ट डिसमिसल रहे जो काफी कम देखने को मिलता है. हमने दूसरे हाफ में अच्छा किया क्योंकिं हमें इस बात का पता था कि इस स्कोर का बचाव करना बेहद कठिन काम है.”

“इस विकेट ने मुझे जरुर कुछ अचंभित किया क्योंकिं हमें पता था कि विकेट स्लो होगा लेकिन लाइट्स में भी इतना स्लो इसका अंदाज़ा नहीं था. यहाँ पर रन बनाना आसान काम नहीं था. सभी महेंद्र सिंह धोनी को खेलते देखना चाहते है और यदि बड़े स्तर पर देखा जायें तो यह भारतीय टीम के लिए काफी अच्छा है.”

“उन्होंने अच्छा खेला और वे इस मैच में जीत के पूरी तरह से हकदार थे. हम इस बात को अच्छी तरह से जानते है कि अब हमारे लिए आगे की राह और भी अधिक कठिन होने वाली है क्योंकिं हमें 5 में से 4 मैच जीत हासिल करनी होगी. हमने ऐसी पोजीशन में अपना सबसे अच्छा खेल पहले दिखाया है.”