आईपीएल 2018: दूसरे मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ दिल्ली डेयर डेविल्स अपने इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेगी - क्रिकट्रैकर हिंदी

आईपीएल 2018: दूसरे मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ दिल्ली डेयर डेविल्स अपने इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेगी

Delhi Daredevils
Delhi Daredevils. (Photo Source: Twitter)

इंडियन प्रीमियर लीग के 2018 सीजन 11 एक बड़ा आयोजन है और इसे अब तक का सबसे बड़ा आयोजन का दावा किया गया है. सभी टीमों ने अपने-अपने टीम में अपने पसंद के खिलाड़ी को शामिल करने का पूरा जोर लगाया है और यह टीमें IPL में और भी चमकने की पूरी कोशिश करेगी होंगी साथ ही दिल्ली डेयरडेविल्स अपने टीम के खिलाड़ियों के साथ मैदान में चैंपियंस ट्रॉफी अपने नाम करने के इरादे से उतरेगी. पिछले पांच सालों में वे केवल एकमात्र पक्ष है जो इसे प्लेऑफ़ के लिए बनाने में नाकाम रखा है.

दिल्ली डेयरडेविल्स आईपीएल में कुछ खास कारनामा नहीं दिखाई है लेकिन इस साल गौतम गंभीर के नेतृत्व में वे अपने भाग्य को बदलने की उम्मीद करेगा. दिल्ली डेयरडेविल्सअपना पहला मैच किंग्स इलेवन पंजाब के साथ खेलेगी. किंग्स की टीम में बहुत सारे नए चेहरे हैं. जबकि डीडी की टीम ने इस साल नीलामी से पहले तीन प्रमुख खिलाड़ियों को बनाए रखकर अपनी टीम को मजबूत कर लिया है. एक दिन के खेल में टीमों को पहले बल्लेबाजी पसंद करना होगा. वही बात करें दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम की तो अपने इन्हीं 11 खिलाड़ियोंं के किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैदान में उतरेगी.

सलामी बल्लेबाज (जेसन रॉय, कॉलिन मुनरो): 
मैच खोलने वाले स्लॉट में गौतम गंभीर के निर्णय से कई लोग वास्तव में आश्चर्यचकित हो सकते हैं. लेकिन वो अनुभवी बल्लेबाज को जानते हैं. उन्हें यह पता चल जाएगा कि वह टीम के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाजी कर सकता है. इसके अलावा हमलावर सलामी बल्लेबाजों के लिए उनकी पसंद जैसा कि पिछले सत्र में कोलकाता नाइट राइडर्स के टीम में देखा गया था. दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए एक विदेशी ओपनिंग जोड़ी के लिए रास्ता बनाता है.

इंग्लैंड के आलराउंडर जेसन रॉय को पिछले सीजन में बहुत कम रन बनाने की संभावनाएं थी. जहां उन्होंने गुजरात लायंस के लिए बढ़त हासिल की थी. रॉय मुख्य रूप से इंग्लैंड के लिए सीमित ओवरों के मैच में एक असाधारण प्रदर्शन किया गया था. वह कॉलिन मुनरो, कीवी बल्लेबाज द्वारा भागीदारी करने के लिए तैयार है. मुनरो 3 टी-20 में 100 पूरा किया है.

मध्य क्रम (गौतम गंभीर, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत): 

पिछले कुछ सीजन में जहां क्षेत्ररक्षण दिल्ली डेयरडेविल्स अपने मध्य क्रम में खराब हो गई है. उनके टीम में अनुभव और स्थिरता की कमी है. इस साल अगर गौतम गंभीर मध्य-क्रम में खुद को फिट बैठाते है तो यह समस्या आसानी से हल हो सकती है.

इसके अलावा टूर्नामेंट के सलामी बल्लेबाज के लिए ग्लेन मैक्सवेल की कमी कप्तानों के कंधों पर अतिरिक्त जिम्मेदारी रखेगी. गंभीर को ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर की युवा गतिशील जोड़ी द्वारा समर्थन मिलने की संभावना है. नीलामी से पहले डेयरडेविल्स द्वारा अय्यर और पंत दोनों को बनाए रखा गया था.

अय्यर हाल के दिनों मे अच्छा प्रदर्शन किया है और पंत ने विकेटों को बनाए रखने के लिए ध्यान देना होगा. अय्यर कुछ सकारात्मक बातों में से एक था. जिसमें डेयरडेविल्स का पिछला सत्र था.  जबकि वो एक अच्छी भूमिका निभा सकते है.

ऑल राउंडर्स (अभिषेक शर्मा, विजय शंकर, क्रिस मॉरिस): 

खेल के सभी फॉर्मेट में उत्कृष्टता की अभिषेक शर्मा की क्षमता उन्हें खेल के लिए एक बेहतर खिलाड़ी बनाता है. भारत के अंडर-19 क्रिकेटर ने अंडर-19 का नेतृत्व एक सीजन पहले एशिया कप में किया था. और हाल ही में उन्होंने आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों के अच्छा प्रदर्शन किया था. जिसमें बांग्लादेश अंडर-19 के खिलाफ अर्धशतक लगाकर सुर्खियां बटोरी.

विजय शंकर मौजूदा भारतीय अंतरराष्ट्रीय आलराउंडर के रूप में टीम में फिट होंगे. न केवल वह खेल के मध्य चरणों में कुछ महत्वपूर्ण ओवरों में फिट हो सकते हैं. लेकिन इन्हें मौका देकर लिंग लंबा खेलने का मौका दिया जा सकता है.

क्रिस मॉरिस पिछले साल से दिल्ली के लिए अच्छा नेतृत्व कर रहे थे. मॉरिस को इस वर्ष नीलामी से पहले बरकरार रखा था और यह चौकाने वाला होगा अगर वह दिल्ली डेयरडेविल्स के सीजन के पहले मैच के लिए ग्यारह की शुरुआत में नहीं है. हालांकि ये ध्यान देने योग्य है कि मॉरीस ने भारत के खिलाफ हाल के अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान काफी संघर्ष किया था.

स्पिनर (अमित मिश्रा): 

दिल्ली डेयरडेविल्स के टीम के लिए टीम में स्पिनर चुनने के लिए कुछ गंभीर चयन किया है. हालांकि अगर देखा जाए तो यह एक दिन का खेल है. यह संभावना नहीं है कि टीम दो स्पिनरों के साथ जाएगी. उनके पास शाहबाज नदीम, संदीप लमचिन्हा, जयंत यादव और अमित मिश्रा स्पिन के विकल्प हैं.

तेज गेंदबाजों (ट्रेंट बोल्ट, मोहम्मद शमी): 

टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले गौतम गंभीर ने ट्रेंट बोल्ट की बहुत ज्यादा तारीफ की है. वह पिछले साल केकेआर की टीम में बोल्ट के साथ खेला था. निश्चित रूप से गंभीर सीजन के पहले गेम में बोल्ट के साथ जाएंगे. बोल्ट हाल के दिनों में अच्छा प्रदर्शन रहा है.

बोल्ट को तेज गेंदबाजी मोहम्मद शमी के साथ के साथ करने की संभावना है. शमी हाल के दिनों में अपने पारिवारिक उलझन में उलझे रहें लेकिन आईपीएल मैं खेलने के साथ साथ वह कुछ नया करने की उम्मीद लगाए हुए हैं.

किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ दिल्ली डेयर्स डेविल इन 11 खिलाड़ियों को मैदान में उतारेगी.