आईपीएल 2018: 24 वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है - क्रिकट्रैकर हिंदी

आईपीएल 2018: 24 वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है

Umesh Yadav
Umesh Yadav of RCB celebrates a wicket. (Photo Source: Twitter)

आईपीएल सीजन 11 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु अभी तक 5 मैचों में से सिर्फ 2 मैच जितने में कामयाब हुई हैं. स्टार क्रिकेटर से सजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम कब अपनी जीत के प्लेटफार्म पर दौड़ती है चेन्नई के दर्शकों को खासा इंतजार है. बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में होने वाले मैच में जहां उनके सामने महेंद्र सिंह धोनी होंगे तो वहीं एक और भारतीय स्टार बल्लेबाज सुरेश रैना को रोकना भी सबसे पहले विराट कोहली की चुनौती होगी.

ओपनिंग बल्लेबाजी: (क्विंटन डी कॉक और मनन वोहरा)

क्विंटन डी कॉक पिछले मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ दुर्भाग्यवश रन आउट हो गए लेकिन क्विंटन डी कॉक ने 16 गेंद पर 18 रन की पारी खेली थी. वही इस IPL की बात करें तो क्विंटन डी कॉक ने पांच मैच में 112 रन बनाए हैं. महेंद्र सिंह धोनी को क्विंटन डी कॉक को रोकने के लिए शुरूआत की रणनीति पर जोर देना होगा.

मनन वोहरा की बात करें तो दिल्ली डेयरडेविल्स के सामने ये ज्यादा देर तक टिक नहीं सके थे. 5 गेंद पर इन्होंने 2 रन बनाए थे. वही इस IPL की बात करें तो मनन वोहरा ने अभी तक एक मैच खेला हैं अब यह देखना है कि अगले मैच में मिलने वाले मौके को किस रूप में लेते हैं.

मध्य क्रम बल्लेबाजी: (विराट कोहली, एबी डी विलियर्स विलियर्स, कैरी एंडरसन और मनदीप सिंह) 

कप्तान विराट कोहली की बात करें तो अभी तक इस IPL में बहुत ही बेहतरीन बल्लेबाजी की है 5 मैच में उन्होंने शानदार 231 रन बनाए हैं इस दौरान उनका सर्वोत्तम स्कोर 92 रन का रहा है. वहीं उन्होंने 21 चौके 8 छक्के भी लगाए हैं महेंद्र सिंह धोनी के सामने सबसे बड़ी चुनौती विराट कोहली को रोकना होगा.

एबी डिविलियर्स की बात करें तो पूरे विश्व में क्लॉथ ऐसे प्लेयर है जो किसी भी वक्त कहीं से भी कोई भी शॉट खेलने की क्षमता रखते हैं एबी डिविलियर्स की बात करें तो अभी तक इस IPL में 5 मार्च में में 212 रन बनाए हैं इस दौरान की बात करें तो 14 चौके और 15 छक्के मारे हैं. एबी डिविलियर्स चेन्नई के लिए बहुत बड़ी चुनौती हैं अब देखना है कि चेन्नई सुपर किंग किंग डिविलियर्स के लिए क्या रणनीति बनाती है.

मनदीप सिंह की बात करें तो पिछले मैच में अंतिम के ओवर में में इन्होंने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 9 गेंद पर 17 रन बनाएं इस दौरान 1 चौके और एक छक्का भी लगाया चेन्नई सुपर किंग्स चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ वह किस तरह से बल्लेबाजी करते हैं यहां आगे आने वाले मैच में उनकी प्रदर्शन पर निर्भर रहेगा.

कोरी एंडरसन की बात करें तो अभी तक दो मैच में सिर्फ 15 रन बनाने में सफल रहे हैं वही गेंदबाजी की बात की करें तो 2 मैच में 3 सफलताएं सफलताएं भी हासिल की है न्यूजीलैंड के बल्लेबाज कोरी एंडरसन को एक आक्रमक बल्लेबाज के तौर पर देखा जाता है अब यह देखना है कि कोरी एंडरसन आने वाले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ किस तरह से अपना प्रदर्शन दिखाते है.

आल राउंडर: (वाशिंगटन सुंदर और क्रिस वोक्स) 

वाशिंगटन सुंदर की बात करें तो पिछले मैच में 4 ओवर की गेंदबाजी की गेंदबाजी में 31 रन खर्च कर खर्च कर एक सफलता हासिल की वही इस IPL की बात करें तो बात करें तो वाशिंगटन सुंदर ने 5 मैच में 51 रन बनाए हैं और चार सफलता भी हासिल की है अगर इसी तरह से वाशिंगटन सुंदर अपना प्रदर्शन करते हैं तो आने वाले मैच में बेंगलुरु की जीत की उम्मीदें काफी बढ़ जाएंगी.

क्रिस वोक्स की बात करें तो पिछले मैच में यह काफी महंगे साबित हुए थे 4 ओवर में उन्होंने 40 रन देकर एक भी सफलता हासिल नहीं की थी. क्रिस वोक्स की बात करें तो 5 मैच में अभी तक उन्होंने 8 सफलताएं हासिल की अगर इसी तरह की गेंदबाजी क्रिस वोक्स आगे जारी रखते हैं तो चेन्नई सुपर किंग किंग के लिए एक मुसीबत बन कर उभर सकते हैं

गेंदबाजी: (उमेश यादव, मोहम्मद सिराज और यजुवेंद्र चहल)

पिछले मैच में उमेश यादव की बात करें तो काफी अच्छी गेंदबाजी की थी 4 ओवर में 27 रन देकर उन्होंने एक सफलता हासिल की थी इस दौरान उन्होंने 11 डॉट बॉल भी डालें उमेश यादव एक ऐसे बाबा ने जो किसी भी समय अपनी टीम को मुसीबत से निकाल सकते हैं अब यह देखना है कि चेन्नई सुपर किंगस के लिए किस प्रकार से अपनी बॉलिंग में बदलाव करते हैं. ।मोहम्मद सिराज की बात करें तो पिछले मैच में 4 ओवर की गेंदबाजी में 35 रन देकर एक भी सफलता हासिल नहीं की इस सीजन IPL पर नजर डालें तो मोहम्मद सिराज ने दो मैच खेलकर एक भी सफलता हासिल नहीं की है अब यह देखना है कि चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ वह किस तरह की गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हैं.

यजुवेंद्र चहल की बात करें तो अभी तक इस IPL में 5 मैच खेलकर 5 सफलता हासिल की है लेकिन यह गेंद शहर जिस तरह की गेंदबाजी के लिए जाने जाते हैं उस तरह की गेंदबाजी अभी तक इस IPL में नहीं दिखी है कभी भी किसी मैच में वह संकटमोचन बंद कर भरटब नहीं दिखाई दिए हैं.