कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुंबई इंडियंस 41वें मैच में अपने इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है - क्रिकट्रैकर हिंदी

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुंबई इंडियंस 41वें मैच में अपने इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है

Mumbai Indians’ celebrate fall of MS Dhoni’s wicket. (Photo by IANS)
Mumbai Indians’ celebrate fall of MS Dhoni’s wicket. (Photo by IANS)

आईपीएल सीजन 11 अब अपने अहम पड़ाव पर आ गई है. सभी टीम अब अपने अपने दूसरे स्टेज में चली गई है. वही कोलकाता में बुधवार को इडेन गार्डन में मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच सीजन का 41वां मैच खेला जाना है. जहा कोलकाता अभी सीजन में 4 नंबर पर है. तो मुंबई इंडियंस 5 वें पायदान पर खड़ी है. वही मुंबई इंडियन लगातार पिछले दो मैच जीत कर फॉर्म में नजर आ रही है.

मुंबई इंडियंस की शुरुवात इस सीजन में ठीक नही रही. और यही वजह है कि हिटमैन रोहित शर्मा की टीम इस सीजन में करामात नही दिखा पाई. लेकिन पिछले दो मैच को जीत कर मुंबई की टीम अपने फॉर्म में आ गई है. और पिछले मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को भी हरा चुकी है. वही अब 41 वां मैच मुंबई की टीम एक बदलाव के साथ अपने इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है.

सालमी बल्लेबाज: (इविन लुइस और सूर्यकुमार यादव) 

मुंबई इंडियंस की सलामी बल्लेबाजी काफी हद तक ठीक हो गई है. टीम के सलामी बल्लेबाज इविन लुइस और सूर्यकुमार यादव काफी अच्छी पारी खेल रहे है. पिछले मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ 39 गेंद पर 59 रनो की पारी खेली. वही इविन लुइस ने 28 गेंद पर 43 रनों की पारी खेल चुके है. और दोनों टीम को काफी हद तक बांधे रखा है.

मगर टीम के कप्तान रोहित शर्मा बार बार अपने प्रदर्शन में ढीले दिख रहे है. और रोहित की कमी सलामी बल्लेबाज पूरा कर रहे है. और आगे भी कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ इन दोनों बल्लेबाजो पर ही  ज्यादा उम्मीद करना टीम के लिए ठीक होगा.

मध्य क्रम: (ईशान किशन और रोहित शर्मा)

मुंबई इंडियंस टीम के भले ही कई खिलाड़ी इस सीजन में अपना प्रदर्शन ठीक ठाक कर रहे है लेकिन कप्तान रोहित शर्मा की बल्लेबाजी से टीम को कोई फायदा नही हो रहा है. क्योंकि टीम में रोहित के रहने और न रहने से कोई फर्क नही पड़ रहा है. एक दो मैच में भले ही उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की मगर बाकी के मैच में फ्लॉप साबित हुए. रोहित शर्मा ने पिछले मैच में कोलकाता के खिलाफ 11 गेंद पर 11 रन ही बना पाए और पवेलियन लौट गए. मगर उन्हें आगे के मैच में अपने प्रदर्शन में सुधार लाना होगा क्योंकि आगे के सभी मैच टीम के लिए अग्नि परीक्षा से कम नही है.

ईशान किशन को पिछले मैच में बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला लेकिन वो टीम में अच्छा खेल रहे है. सीजन के कुछ मैच में वो उतना अच्छा नही खेल पाए लेकिन उन्होंने काफी संघर्स किया है और टीम में एक बेहतर खिलाड़ी के तौर पर अपनी जगह बनाए हुए है.

ऑल राउंडर: (हार्दिक पंड्या, कुणाल पंडया और बेन कटिंग)

मुंबई इंडियंस में पंड्या ब्रदर्स काफी अच्छे फॉर्म में हैं हार्दिक पंड्या और कुणाल पंड्या मुंबई इंडियंस के लिए इस सीजन में काफी बेहतर खिलाड़ी साबित हुए हैं इन दोनों भाइयों ने टीम के लिए ज्यादातर मैचों में काफी अच्छा परफॉर्मेंस किया है लेकिन हार्दिक पंड्या सबसे बेहतर साबित हुए हैं हार्दिक पंड्या पिछले मैच में कोलकाता के खिलाफ 20 गेंद पर 35 रनो की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाया था.

जबकि कुणाल पंडया 11 गेंद पर 14 रन बनाकर पवेलियन लौट गए थे. लेकिन इससे पहले पंजाब के खिलाफ हार्दिक पंड्या से अच्छी पारी खेल चुके है. लेकिन बेन कटिंग अपने फॉर्म में आते नजर नही आ रहे है. पिछले मैच में बेन कटिंग को बल्लेबाजी करने का मौका नही मिला था लेकिन उन्होंने गेंदबाजी की और मुंबई इंडियंस के खिलाफ 2 ओवर में 23 रन दे दिए. जो टीम के भविष्य के लिए ठीक नही था.

गेंदबाज: (मयंक मार्कण्डे, मिचेल मैक्लेघन, जसप्रीत बुमराह और मुस्तफिजुर रहमान)

मुंबई इंडियंस के गेंदबाज अपने लय में है. मयंक मार्कण्डे और मिचेल मैक्लेघन दोनों टीम के लिए विकेट बटोर रहे है. लेकिन रफ्तार विकेट बटोरने की कम है इन गेंदबाजों की मदद सबसे ज्यादा हार्दिक पंड्या कर रहे है वो कई मैचो में लागतार 2 से 3 विकेट ले चुके है और ज्यादा रन भी बल्लेबाजो को लेने नही दिया. वही मयंक और मिचेल ने पिछले मैच में कोलकाता के खिलाफ 1-1 विकेट अपने नाम किया है.

लेकिन जसप्रीत बुमराह ने इस सीजन में टीम में अपना अच्छा योगदान दिया है. लेकिन पिछले मैच में कोलकाता के खिलाफ कुछ ज्यादा ही रन बल्लेबाजो को बनाने का मौका दे दिया. बुमराह ने 4 ओवर फेंके जिसमे 34 रन बल्लेबाज ने बटोर लिए. और एक ही विकेट लेने में कामयाबी हासिल हुई.

कल के मैच में मुस्तफिजुर रहमान को लाया जा सकता है क्योंकि कोलकाता का इडेन गार्डन एक छोटा मैदान है और उसमे नियमित गेंदबाजों को परेशानी हो सकती है. इसलिए मुस्तफिजुर रहमान को टीम में लाना टीम के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि रहमान एक अच्छे गेंदबाज की श्रेणी में आते है.