in , , , ,

किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 50वें मैच में मुंबई इंडियंस इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है

ईशान किशन कोलकाता के खिलाफ दिखाए गए जलवा को दोहराने में नाकाम रहे

Suryakumar Yadav
Mumbai Indians’ Suryakumar Yadav in action. (Photo by IANS)
इंडियन प्रीमियर लीग 2018 में अब तक 49 मैच खेले जा चुके है और 50 वाँ मैच इस टूर्नामेंट का किंग्स इलेवन पंजाब और मुम्बई इंडियंस के बीच खेला जाना है जहां इंडियन प्रीमियर लीग के इस महत्वपूर्ण खेल में मुंबई इंडियंस किंग्स इलेवन पंजाब को प्रभावित करने और संघर्ष करने के लिए तैयार हैं यह मौजूदा चैंपियनों के लिए एक जरूरी गेम है. जहां पिछले मैच पर नजर डाले तो पता चलता है कि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के साथ खेलते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम महज 88 रन पर 10 विकेट गवां कर मैच को आरसीबी के हाथों में सौप दिया था. इसका फायदा मुंबई की टीम को मिल सकता है क्योंकि इतनी लो स्कोरिंग मैच में पंजाब की हार उनके आत्मविश्वास को थोड़ा कमजोर जरूर किया होगा.
जबकि रोहित शर्मा की टीम को पहले इस खेल पर ध्यान देना होगा और यह सुनिश्चित करना होगा कि वे पंजाब की टीम को कैसे अपने रणनीतियों में फसाकर टीम पर विजय प्राप्त करेंगी. हालांकि यह आसान नहीं होगा पंजाब पिछले मैच अपनी खोई हुई सम्मान को किसी भी स्थिति में वापस पाने की पुरज़ोर कोशिश करेगी और जहां कुछ और मैचों में जीतकर प्लेऑफ में जगह सुरक्षित करना चाहेगा और एक दिलचस्प मुकाबला होने की उम्मीद है और जो भी टीम इस दबाव से निपट लेगी वो वानखेड़े स्टेडियम में जीत जाएगी. यहां हम आपको इस मैच के लिए मुंबई इंडियंस के अनुमानित ग्यारह खिलाड़ी के बारे में बताते है.

सलामी बल्लेबाज: (इविन लुईस और सूर्यकुमार यादव)

इविन लुईस और सूर्यकुमार यादव ने रॉयल्स के खिलाफ अपने पिछले मुकाबले में एक बार फिर से शानदार खेल के साथ टीम को मजबूत शुरुआत देने में कामयाम रहे थे. दोनों ने शुरुआती विकेट के लिए 87 रन जोड़े और लुईस ने 142.86 की स्ट्राईक रेट से 60 रन बनाए लेकिन अपनी टीम के लिए गलत समय पर अपना विकेट गंवा दिया. मगर इस बार लंबे समय तक मैदान पर इन्हें रहना होगा. मुंबई के लिए सेट बल्लेबाजों के लिए पारी के माध्यम में खेलना महत्वपूर्ण है जो की उन्हें बड़े स्कोर का पीछा करने में मदद करेगा.
सूर्यकुमार का इस सीजन में अब तक का प्रदर्शन काफी शानदार रहा है जहां ये खिलाड़ी अपनी पारी को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुँचाने में अब तक कामयाब रहा है. पिछले मैच में राजस्थान के खिलाफ इन्होंने 122.58 स्ट्राईक रेट से 38 रन बनाए थे लेकिन टूर्नामेंट जिस पड़ाव पर चल रहा है ऐसे में खिलाड़ियों को और बेहतर प्रदर्शन करने की जरूरत है.

मध्य क्रम (रोहित शर्मा और ईशान किशन)

इस सीजन में मुंबई इंडियंस के लिए रोहित शर्मा पूरी तरह से फॉर्म में नहीं रहे हैं. वह बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं जहां पिछले मैच में उनका पहला बॉल पर आउट होकर पवेलियन में वापस जाना आने वाले बल्लेबाजों पर दबाव डालता है जो कि इनके लिए अच्छे संकेत नही है. क्योंकि वे अपने सभी गति खो चुके है हालांकि रोहित एक बड़े खिलाड़ी हैं और उम्मीद करेंगें की वानखेड़े में वो अपना बेहतर प्रदर्शन करे ताकि पंजाब को प्रतियोगिता से बाहर का रास्ता दिखा पाने में उनकी टीम कामयाब हो सके.
ईशान किशन कोलकाता के खिलाफ दिखाए गए जलवा को दोहराने में नाकाम रहे और महत्वपूर्ण समय पर अपना खेल को नही खेल पाए है. नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए उन्हें कुछ ज़िम्मेदारी लेने के लिए सीखना चाहिए. अगर वो विकेट की गति को पकड़ने में कामयाब होते है तो उनके पास टूर्नामेंट में किसी भी गेंदबाजी को खेलने की क्षमता और प्रविष्ठ होगी. इस मुकाबले में टीम को इनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी.

ऑल राउंडर्स: (हार्दिक पंडया क्रुणाल पंडया और बेन कटिंग)

हैदराबाद के खिलाफ मुंबई की सर्मनाक हार के बाद हार्डिक पंडया का सत्र अलग-अलग तरीके से बदल गया है उसने अपनी गलतियों से सीखा है और सही समय पर अपने खेल को सामने लाया है. हार्दिक इसी क्रम में बल्लेबाजी कर रहे हैं जिसने डेथ के ओवरों में मुंबई के लिए शानदार प्रदर्शन किया है.
क्रुणाल पंडया भी गेंद के साथ अच्छा कर रहे है जैसे वह पिछले सीज़न में था उनकी चतुर बाएं हाथ की स्पिन गेंदबाजी किसी भी बल्लेबाज को परेशान कर सकता है लेकिन उन्होंने बल्ले से अपनी प्रतिभा को न्यायसंगत बनाने के लिए संघर्ष किया है और इस मैच में कुछ महत्वपूर्ण रन बनाने के लिए उत्सुक होंगे. अब तक मुंबई के महत्वपूर्ण चरणों में बेन कटिंग की गेंदबाजी अच्छी रही है और जब उनकी बल्लेबाजी की बात आती है तो वह डेथ के ओवर में और भी खतरनाक है और किसी भी स्थिति में किसी भी विपक्ष को चोट पहुंचा सकते है.

गेंदबाज: (मयंक मार्कण्डे, एडम मिल्ने, मिचेल मैक्लेघन और जसप्रीत बुमराह)

पिछले कुछ मैच में मयंक मार्कण्डे की गेंदबाजी साधारण रही है पिछले मैच में राजस्थान के खिलाफ गेंदबाजी करते हुए 3 ओवर में 32 रन दे डाले और कोई विकेट भी नही निकाल पाए लेकिन पंजाब के खिलाफ अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की उम्मीद के साथ टीम में बने रह सकते हैं.
वहीं मिचेल मैक्लेघन की गेंदबाजी थोड़ा महंगा रहा है लेकिन पॉवरप्ले ओवरों में अपने कप्तान के लिए विकेट लिए हैं उन्हें सिर्फ उसी तरह गेंदबाजी जारी रखने की जरूरत है और कुछ रनों के जाने के बाद भी उन्हें उनकी योजना से नहीं रोकना चाहिए क्योंकि केएल राहुल और क्रिस गेल के खिलाफ नई गेंद के साथ उनका जादू महत्वपूर्ण है.
जसप्रीत बुमराह की इस टूर्नामेंट में गेंदबाजी अच्छी रही है फिर भी वह अपनी गेंदबाजी में लगातार सुधार और बदलाव करते रहते है पिछले मैच में राजस्थान के खिलाफ उन्होंने 3 ओवर में 34 रन देकर एक महत्वपूर्ण विकेट लिया है और पंजाब के खिलाफ इस मैच में अपने बेहतर प्रदर्शन के लिए तैयार है.
एडम मिल्ने की इस मैच में आने की उम्मीद है डुमिनी की साधारण खेल को मद्देनजर उनके स्थान पर इन्हें मौका दिया जा सकता है इनकी छोटी गेंद में लगातार परिवर्तन पंजाब के बल्लेबाजों के लिए घातक साबित हो सकता है.
Kings XI Punjab

मुंबई इंडियंस के खिलाफ 50वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब इन 11 खिलाड़ियो को उतारेंगी

Danielle Wyatt. (Photo by Harry Trump/Getty Images)

शुभमन गिल ने कुछ इस तरह ट्विट कर डेनियल व्याट का किया भारत में स्वागत