IPL के जरिए मुझे अपनी काबिलियत दिखाने के साथ वर्ल्ड क्रिकेट के बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ और उनके खिलाफ खेलने का मौका मिला - विराट कोहली - क्रिकट्रैकर हिंदी

IPL के जरिए मुझे अपनी काबिलियत दिखाने के साथ वर्ल्ड क्रिकेट के बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ और उनके खिलाफ खेलने का मौका मिला – विराट कोहली

विराट कोहली IPL के पहले संस्करण से अब तक रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्सा हैं।

Virat Kohli. (Photo Source: IPL/BCCI)
Virat Kohli. (Photo Source: IPL/BCCI)

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को धन्यवाद किया है और कहा है कि, अगर IPL ना होता तो वो अपनी काबिलियत दुनिया के सामने ना रख पाते। उन्होंने कहा कि थैंक्स यू IPL मुझपर भरोसा करने के लिए। बता दें कि विराट कोहली को RCB ने 2008 में खरीदा था जब उन्होंने भारत को अंडर-19 वर्ल्ड कप में जीत दिलाई थी। कोहली 2008 से अब तक टीम का हिस्सा हैं।

RCB में आने के बाद कोहली ने पीछे मुड़कर कभी नहीं देखा और लगातार वो अपनी काबिलियत दुनिया के सामने पेश करते रहे। आज वो IPL में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ हैं। आईपीएल में सिर्फ दो ही बल्लेबाज हैं जिन्होंने 6000 से ज्यादा रन बनाए हैं। विराट कोहली और शिखर धवन। शिखर भी दिल्ली से हैं जहां से विराट हैं। IPL ने आईपीएल को उनपर भरोसा करने के लिए धन्यवाद किया।

कोहली ने स्टार स्पोर्ट्स के शो ‘इंसाइड RCB’ में कहा कि, अगर भारतीय टीम के अलावा बात की जाए तो, IPL ने मुझे मेरी काबिलियत दिखाने का मौका दिया है। यही नहीं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के बीच में मैं रहा हूं और उनके साथ बहुत कुछ सीखा है। आईपीएल की वजह से मैंने क्रिकेट को अलग तरीके से समझा है और आज जिस जगह पर मैं हूं ये आईपीएल की ही देन है।

उन्होंने आगे कहा कि, तमाम दिग्गज खिलाड़ियों से मैंने बहुत कुछ सीखा है। प्रेशर मुकाबलों में कैसे अपना प्रदर्शन बेहतर किया जाए यह सब चीजें मुझे आईपीएल ने ही सिखाई है। अलग-अलग तरह के शॉट खेलना, कैसे प्रेशर कंडीशन में अपने ऊपर भरोसा करना ये सब चीज़े मुझे आईपीएल ने ही सिखाई है।

मेरे लिए RCB की वफादारी सबसे जरूरी: विराट कोहली

कोहली को आरसीबी में 15 साल हो चुके हैं। उनको टीम ने 2008 में खरीदा था और तब से वह इस टीम का हिस्सा है। आईपीएल में कुछ ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने सिर्फ एक ही फ्रेंचाइजी से खेला है। विराट ने यह भी बताया कि कई फ्रेंचाइजियों ने उनको अपनी टीम से खेलने का प्रस्ताव भी भेजा है लेकिन उन्होंने कभी भी किसी और फ्रेंचाइजी में जाने का मन नहीं बनाया। वह हमेशा से आरसीबी के साथ थे और आगे भी भविष्य में इसी टीम के साथ रहेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि,मेरे लिए, आरसीबी के साथ वफादारी की समझ, जैसे मैं अपने जीवन का पालन करता हूं, इस तथ्य से कहीं अधिक है कि कमरे में पांच लोग कहेंगे, ‘अरे, आप XYZ के साथ आईपीएल जीत गए’। आप पांच मिनट के लिए अच्छा महसूस करते हैं, लेकिन फिर छठे मिनट में आप जीवन में कुछ अन्य मुद्दों से दुखी हो सकते हैं। तो, यह मेरे लिए दुनिया का अंत नहीं है। मेरे लिए आरसीबी के साथ वफादारी मेरी सबसे पहली जरूरत है।