in

तेज गेंदबाज ईश्वर पाण्डेय को आशा है कि वे एक बार फिर से चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा होंगे

महेंद्रसिंह धोनी के नेतृत्व में खेलना हर भारतीय खिलाड़ी का सपना रहा है और आईपीएल के दौरान जब ईश्वर पाण्डेय

Ishwar Pandey
Ishwar Pandey. (Photo by Clint Hughes/Getty Images)

इंडियन प्रीमियर लीग 2018 के लिए खिलाड़ियों की नीलामी होने में अब अधिक समय नहीं बचा है जिसके लिए देश भर के घरेलू क्रिकेट खिलाड़ियों को इस बात की उम्मीद है कि उन्हें इस बार आईपीएल के इस सीजन में खेलने का मौका मिल सकता है. इसी कड़ी में मध्यप्रदेश के तेज गेंदबाज ईश्वर पाण्डेय जिन्होंने इस रणजी सीजन में अपनी टीम को क्वाटर फाइनल तक पहुँचाने में शानदार योगदान दिया था और 23 विकेट इस सीजन में अपने नाम पर किये थे.

2013 में किया था आईपीएल में डेब्यू

इश्वर पाण्डेय को 2013 के आईपीएल सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स ने अपनी टीम में शामिल किया था और धोनी के नेतृत्व में इस गेंदबाज ने टीम के लिए गेंदबाजी की शुरुआत टीम के लिए करता था. पिछले साल ईश्वर पाण्डेय राइजिंग पुणे सुपरजायन्ट्स टीम में थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का अवसर नहीं मिल सका था और एक बार चेन्नई के इस सीजन में वापस आने के बाद इस खिलाड़ी को उम्मीद है कि एक बार उसे फिर से इस टीम से खेलने का अवसर मिल सकता है.

मुझे खुशी सीएसके के वापस आने से

28 साल के युवा तेज गेंदबाज ईश्वर पाण्डेय को इस बात की उम्मीद है कि वे एक बार फिर से चेन्नई सुपर किंग्स की जर्सी में दिख सकते है. क्रिकट्रैकर से खास बातचीत में इश्वर पाण्डेय ने कहा कि “मुझे सीएसके वापस आने की बेहद खुशी है मुझे एक बार फिर से इस टीम से खेलने पर बेहद खुशी होगी लेकिन नीलामी के दौरान इस बात का पता चलेगा कि मैं किस टीम में जाता हूँ.”

धोनी के नेतृत्व में खेलना शानदार

महेंद्रसिंह धोनी के नेतृत्व में खेलना हर भारतीय खिलाड़ी का सपना रहा है और आईपीएल के दौरान जब ईश्वर पाण्डेय चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेल रहे थे तो उन्हें धोनी के नेतृत्व में खेलने का अवसर मिला जिसके बाद जब इस इस इंटरव्यू के दौरान उनसे धोनी के नेतृत्व में खेलने के बारे में पूछा तो इस तेज गेंदबाज ने कहा कि,

“वह खिलाड़ियों का काफी समर्थन करते है लोग इस बात को नहीं समझ पाते है क्योंकी वे विकेट के पीछे होते है लेकिन वे फील्ड में ऐसा बदलाव करते है कि गेंदबाज को उसका लाभ मिलता है.वह लगातार गेंदबाज से बात करते रहते है. हर खिलाड़ी उनके नेतृत्व में खेलना चाहता है और ये मेरे लिए काफी अच्छी बात रही कि मै सीएसके और आरपीएस दोनों में उनके साथ रहा जिससे मुझे काफी कुछ उनसे सीखने को मिला.”

सैयद मुश्ताक अली ट्राफी पर है ध्यान

2016 में हुई सैयद मुश्ताक अली ट्राफी में मध्यप्रदेश और आन्ध्रा के बीच मैच के दौरान ईश्वर पाण्डेय ने हैट्रिक लेने का कारनामा किया था. इस बार ये टूर्नामेंट 7 जनवरी से शुरू हो रहा है और इस गेंदबाज को उम्मीद है कि वे ऐसा फिर से कर सकेंगे जिससे उन्हें इसका लाभ आईपीएल में मिल सके. इश्वर ने इस बारे में कहा कि ” इस समय पूरा ध्यान टीम को हर मैच में जीत दिलाना है नीलमी में अभी काफी समय है इस समय प्राथमिकता इस बात पर है कि टीम और मेरा प्रदर्शन अच्छा रहे.”

इस समय भारतीय टीम के गेंदबाज कैसे है

भारतीय टीम में शामिल इस समय तेज गेंदबाजों के बारे में जब ईश्वर पाण्डेय से इस इंटरव्यू में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि “ये काफी अच्छा गेंदबाजी क्रम है जिसमे मोहम्मद शामी, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाज शामिल है और ये सब इस समय काफी अच्छा प्रदर्शन भी कर रहे है.”

ईश्वर पाण्डेय ने इस बार रणजी में काफी अच्छी गेंदे फेंकी है उसी में से एक गेंद

Ranji trophy #greatfeeling #makeeverydaycount ☺️🏏🙏

A post shared by Ishwwar Pandey (@ishwar22) on

Mustafizur Rahman

श्रीलंका और जिम्बाब्वे के खिलाफ त्रिकोणीय सीरीज के लिए बांग्लादेश टीम का ऐलान

Kevin Pietersen

बिग बैश लीग के बाद क्रिकेट को अलविदा कर देगा ये दिग्गज क्रिकेटर