एशेज 2021 के लिए सबसे मजबूत टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया जाएगी रूट एंड कंपनी - क्रिकट्रैकर हिंदी

एशेज 2021 के लिए सबसे मजबूत टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया जाएगी रूट एंड कंपनी

एशेज सीरीज का पहला टेस्ट मैच 8 दिसंबर से गाबा के मैदान पर खेला जाएगा।

England captain Joe Root (l) and Australia captain Tim Paine pictured with the Ashes trophy. (Photo by Stu Forster/Getty Images)

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) के बीच हुई चर्चा के बाद इंग्लैंड ने फैसला किया है कि दिसंबर के महीने में शुरू होने वाली एशेज सीरीज के लिए अब वो ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेंगे। हाल ही में ईसीबी और ऑस्ट्रेलिया बोर्ड के बीच एक बैठक हुई जिसमें इंग्लिश कप्तान जो रूट भी शामिल हुए और इसके बाद रूट ने भी साफ कर दिया है कि एशेज सीरीज के लिए अब वो मजबूत टीम के साथ दौरा करेंगे।

आगामी सीरीज के लिए पिछले कुछ दिनों से कई तरह की खबरें सामने आ रही थी। माना जा रहा था कि ऑस्ट्रेलिया में कड़े आइसोलेशन नियमों के चलते इंग्लैंड के कुछ बड़े खिलाड़ी इस दौरे से अपना नाम वापस ले सकते हैं। वहीं, कुछ दिन पहले ये खबर भी समाने आई थी कि ये दौरा रद्द किया जा सकता है। लेकिन दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड के बीच ये बैठक होने के बाद अब ऐसा लग रहा है कि अब ये सीरीज तय समय पर शुरू होगी।

एशेज सीरीज को लेकर आरोन फिंच ने क्या कहा?

ऑस्ट्रेलिया के सीमित ओवरों के कप्तान आरोन फिंच ने कहा है कि इंग्लैंड ने हाल के दिनों में काफी टेस्ट क्रिकेट खेला है। फिंच ने इसके साथ ये भी कहा कि सभी खिलाड़ी अब लंबे समय के लिए इस दौरे पर रहेंगे और साथ ही सभी क्वारंटीन नियम का पालन करेंगे।

एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए फिंच ने कहा कि “उन्होंने पिछले कुछ समय में काफी टेस्ट क्रिकेट खेला है। सभी खिलाड़ी क्वारंटाइन नियमों का पालन करते हुए लंबे समय तक इस दौरे पर रहेंगे। ये दौरा कठिन जरूर होगा लेकिन ये देख कर अच्छा लगा कि जो रूट इस दौरे के लिए अपनी सबसे मजबूत टीम के साथ आने के लिए तैयार हो गए हैं।”

पांच मैचों की एशेज सीरीज 8 दिसंबर से शुरू होगी

एशेज 2021 का पहला टेस्ट मैच 8 दिसंबर से ब्रिसबेन के मैदान पर शुरू होगा। वहीं, बाकी के चार टेस्ट मैच एडिलेड, मेलबर्न, सिडनी और पर्थ के मैदान पर खेले जाएंगे। पिछला एशेज सीरीज 2019 में खेला गया था जहां दोनों टीमों ने दो-दो मैच जीतकर सीरीज आपस में बांट लिया था।