इंग्लैंड के क्रिस वोक्स ने कहा,घुटने की समस्या का मेरे कैरियर पर कोई असर नहीं पड़ने वाला - क्रिकट्रैकर हिंदी

इंग्लैंड के क्रिस वोक्स ने कहा,घुटने की समस्या का मेरे कैरियर पर कोई असर नहीं पड़ने वाला

England team (Photo by Bradley Kanaris/Getty Images)
England team (Photo by Bradley Kanaris/Getty Images)

इंग्लैंड के धाकड़ आलराउंडर क्रिस वोक्स ने कहा कि घुटने की चोट और आपरेशन का उनके क्रिकेट के कैरियर कोई असर नहीं पड़ने वाला। ईएसपीएन क्रिकइन्फो से बातचीत में वोक्स ने उम्मीद जताई कि वेस्ट इंडीज के साथ होने वाले तीसरे वनडे मैच में उन्हें इंग्लैंड की टीम में टॉम कुरैन की जगह पर लिया जा सकता है।

टेस्ट सीरीज में नहीं खिलाया गया था

उन्हें वेस्ट इंडीज के दौरे पर खेले गये टेस्ट मैचों की सीरीज से बाहर बैठाये रखा गया। अब उन्हें बारबाडोस में खेले गये दूसरे वनडे मैच मेंं भी आराम दिया गया था। इंग्लैंड की टीम के मैनेजमेंट ने कहा था कि तीन दिन में दो बार मैच खेलने से उनकी समस्या बढ़ सकती थी इसलिए आराम दिया गया था।

हम अपने कैरियर को देखते हुए घुटने की समस्या को कर रहे हैं मैनेज

उन्होंने कहा कि हम इस मामले को मैनेज कर रहे हैं और दाहिने घुटने की समस्या से इतना परेशान नहीं है कि विश्व कप और उसके बाद होने वाली ऐशेज सीरीज में न खेल सकें। तीसरे वनडे मैच से पहले वोक्स ने ग्रेनेडा में कहा कि यह कोई चिंता की बात नहीं है। मैं क्या महसूस करता हैं इसका कोई मतलब नहीं है बल्कि हम अपने उद्देश्य की ओर बढ़ते हैं तो हमारा उद्देश्य हमारा कैरियर है।

मैं फिट हूं और अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार हूं

उन्होंने कहा कि मेरे घुटने की समस्या मेरी है और इसे हम पिछले आठ वर्षों से मैनेज कर रहा हूं। अधिक बॉलिंग करने के कारण हमारे दाहिने घुटने में थोड़ी समस्या है। हमारे जैसे तमाम लोग हैं। इसको लेकर अधिक चिंतित नहीं हूं। मैं अपने आपको फिट महसूस करता हूं और मैं अच्छा प्रदर्शन करूंगा।

विश्व कप का मुझे हैं इंतजार

उन्होंने कहा कि हम विश्व कप के कार्यक्रम को देख रहा हूं और मुझे नहीं लगता कि यह कार्यक्रम हमारे लिए उतना कठिन है जितना समझा जा रहा है। अधिक काम करना ही मेरे लिए फायदेमंद है। मैंने पिछली सर्दियों में ऐशेज टेस्ट के चार मैच खेले। इसके अलावा सभी वार्मअप मैच भी खेले हैं। पांच वनडे मैच भी खेले । इसके अलावा न्यूजीलैंड में भी चार वनडे मैच खेले। मैंने उस समय किया है और अब भी मैं क्रिकेट के माध्यम से कर सकता हूं।