KKR के शेल्डन जैक्सन अगर क्रिकेटर ना होते तो ये काम कर रहे होते - क्रिकट्रैकर हिंदी

KKR के शेल्डन जैक्सन अगर क्रिकेटर ना होते तो ये काम कर रहे होते

इस आईपीएल में केकेआर के लिए खेलते हुए नजर आएंगे शेल्डन जैक्सन।

Sheldon Jackson
Sheldon Jackson. (Photo Source: Instagram)

आईपीएल-14 के दूसरे फेज को शुरू होने में महज दो दिन का समय बाकी रह गया है। इससे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के खिलाड़ी शेल्डन जैक्सन ने अपने क्रिकेट के भावुक सफर को अपने फैंस के साथ साझा किया है। उन्होंने बताया कि कैसे कुछ साल पहले क्रिकेट ने उनकी पूरी जिंदगी बदल दी।

शेल्डन जैक्सन ने पिछले कई सालों में घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है जिसकी बदौलत उन्हें KKR टीम में जगह मिली। कोलकाता फ्रैंचाइज़ी द्वारा साझा किए गए एक वीडियो में जैक्सन ने अपने क्रिकेट करियर और उस दौरान के संघर्षों को लेकर बातचीत की है। जैक्सन ने वीडियो में बताया कि 25 साल की उम्र में मैंने क्रिकेट को पूरी तरह से छोड़ने के बारे में विचार किया था। मैं एक भी मैच खेले बिना पांच साल तक रणजी ट्रॉफी टीम में था।

फिर मेरे एक बहुत ही करीबी दोस्त शपथ शाह ने कहा कि ‘आपने इन सभी वर्षों में बहुत मेहनत की है। अपने आप को एक और साल दो और उसके बाद फिर से एक साल देना। अगर कुछ नहीं हुआ, तो तुम मेरे कारखाने में आकर काम कर सकते हो। मैं तुम्हें नौकरी दूंगा लेकिन खुद को एक और साल दो।

एक घरेलू सीजन ने बदल दी शेल्डन जैक्सन की जिंदगी

उन्होंने आगे कहा कि, “उस साल मैंने देश का हर रिकॉर्ड तोड़ा। मैं सबसे ज्यादा रन बनाने वाला खिलाड़ी बना। मैंने टीम इंडिया को छोड़कर सब कुछ खेला। मैंने एक सीजन में चार शतक जड़े, जिसमें लगातार तीन शतक भी थे। वहीं से मेरे करियर की शुरुआत हुई। उस समय मैं समझ गया था कि अगर मुझे अपने जीवन में कुछ करना है, तो मैं केवल यही कर सकता हूं क्योंकि मैं और कुछ नहीं जानता था। मैंने अपने जीवन में कभी किसी और चीज पर ध्यान ही नहीं दिया। यदि क्रिकेट मुझपर मेहरबान न होता तो मैं सड़कों पर पानी पूरी बेच रहा होता।”

गौतम गंभीर की वजह से KKR में मिली जगह:शेल्डन जैक्सन

शेल्डन जैक्सन ने इसी दौरान ये भी खुलासा किया कि KKR में शामिल होने के लिए गौतम गंभीर ने बड़ी भूमिका निभाई। जैक्सन ने कहा कि “हम लोग एक बार दिल्ली के सामने रणजी ट्रॉफी का मैच खेल रहे थे और मैंने अच्छे गेंदबाजी आक्रमण के समाने अर्धशतक बनाया। उसके बाद मैं गंभीर भाई के पास गया और उनसे पूछा कि मैं अपनी बल्लेबाजी में और कैसे सुधार ला सकता हूं?”

तो इस पर गंभीर ने जवाब दिया कि, तुम अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहे हो बस तैयार रहो। इस साल मैं तुम्हे KKR के लिए चुनूंगा। मैंने उनसे धन्यवाद कहा और वहां से चला गया। उस साल जब नीलामी हुई तो पहले राउंड में मुझे किसी ने नहीं खरीदा लेकिन उसी वक्त KKR मैनेजमेंट से किसी का फोन आया और उन्होंने कहा कि, “चिंता मत करो गौतम भाई ने अभी फोन किया और हम अगले राउंड में तुम्हारे साथ जाएंगे।”