SA20 के पहले सत्र के लिए उत्साहित हैं क्विंटन डी कॉक - क्रिकट्रैकर हिंदी

SA20 के पहले सत्र के लिए उत्साहित हैं क्विंटन डी कॉक

क्विंटन डी कॉक ने दक्षिण अफ्रीका की ओर से 77 टी-20 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 32.18 के औसत और 135.43 के स्ट्राइक रेट से 2156 रन बनाए हैं।

Quinton de Kock (Image Source: Getty Images)
Quinton de Kock (Image Source: Getty Images)

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (CSA) ने इस साल SA20 लीग की घोषणा की है। इस फ्रेंचाइजी लीग क्रिकेट में कुल 6 टीमें आपस में भिड़ेंगी। यह टूर्नामेंट अगले साल जनवरी में खेला जाएगा।

तमाम युवा क्रिकेटर इस लीग में अपना बेहतरीन प्रदर्शन करने को देखेंगे। इसी के साथ दक्षिण अफ्रीका के विस्फोटक बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक ने SA20 लीग को लेकर अपना पक्ष रखा है। उनका मानना है कि तमाम युवा खिलाड़ी जिन्होंने बड़े टूर्नामेंटों में प्रतिभाग नहीं किया है वो इस शानदार लीग की मदद से अपना टैलेंट दुनिया के सामने रखेंगे।

क्विंटन डी कॉक ने SA20 लीग के साथ एक इंटरव्यू में कहा कि, ‘ सबसे पहली बात यह नया टूर्नामेंट है और इसी वजह से मैच में खेलने के लिए काफी उत्साहित हूं। हम लोगों ने कई टी-20 टूर्नामेंटों में हिस्सा ले रखा है और यह उन सब से काफी अलग होगा। तमाम युवा खिलाड़ी जिन्होंने बड़े टूर्नामेंटों में प्रतिभाग नहीं किया है वो इस शानदार लीग की मदद से अपना टैलेंट दुनिया के सामने रखेंगे। यह टूर्नामेंट कई युवा खिलाड़ियों के लिए काफी मददगार साबित होगा।

दक्षिण अफ्रीका के तमाम प्रशंसक इस लीग का लुफ्त उठाएंगे: क्विंटन डी कॉक

क्विंटन डी कॉक ने आगे कहा कि, ‘मैंने सबके साथ खेला हुआ है इसीलिए मैं जानता हूं कि हमारी टीम में सभी खिलाड़ी काफी शानदार है। दक्षिण अफ्रीका के तमाम प्रशंसकों को यह लीग पसंद आएगी और वो इसका लुफ्त उठाएंगे। मैं इस लीग का बिल्कुल भी इंतजार नहीं कर सकता हूं। उम्मीद करता हूं कि तमाम खिलाड़ी इस लीग में बेहतरीन प्रदर्शन करें।’

क्विंटन डी कॉक ने दक्षिण अफ्रीका की ओर से 77 टी-20 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 32.18 के औसत और 135.43 के स्ट्राइक रेट से 2156 रन बनाए हैं। उनका सर्वोच्च स्कोर 79 रन का रहा है। वहीं IPL में उन्होंने 92 मैचों में 32.14 के औसत और 133.91 के स्ट्राइक रेट से 2764 रन बनाए हैं। IPL लीग में उनका सर्वाधिक स्कोर 140 रन का रहा है।

आगामी SA20 में छह फ्रेंचाइजी एमआई केप टाउन (MICT), पार्ल रॉयल्स (PR), प्रिटोरिया कैपिटल्स (PC), जोबर्ग सुपर किंग्स (JSK), डरबन सुपर जायंट्स (DSJ) और सनराइजर्स ईस्टर्न केप (SEC) शामिल होंगी।