जेम्स एंडरसन के चुनौतियों का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं मार्नस लबुशेन - क्रिकट्रैकर हिंदी

जेम्स एंडरसन के चुनौतियों का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं मार्नस लबुशेन

एशेज टेस्ट सीरीज का पहला मैच 8 दिसंबर से ब्रिस्बेन के मैदान पर खेला जाएगा।

James Anderson and Marnus Labuschagne. (Photo Source: Getty Images)
James Anderson and Marnus Labuschagne. (Photo Source: Getty Images)

एशेज टेस्ट सीरीज के शुरू होने में महज कुछ ही दिनों का वक्त बाकी रह गया है, इसी बीच दोनों देशों के खिलाड़ियों के बीच बयानबाजी का दौर भी शुरू हो गया है। इसी क्रम में ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक मार्नस लबुशेन ने बड़ा बयान दिया है।

सीरीज शरू होने से कुछ ही दिन पहले लबुशेन ने कहा है कि वह सीरीज के दौरान जेम्स एंडरसन का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। इस सीरीज के दौरान सभी की निगाहें ऑस्ट्रेलिया के तीसरे नंबर के बल्लेबाज लाबुशेन पर होंगी। जब से उन्होंने एशेज 2019 के दूसरे टेस्ट के दौरान स्टीव स्मिथ को कंकशन विकल्प के रूप में उन्हें टीम में जगह मिली, तब से उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

वास्तव में, लबुशेन ने दो साल में ऑस्ट्रेलिया के लिएअच्छा प्रदर्शन किया और जमकर रन बनाने में सफल रहा है। हालांकि, इंग्लैंड के तेज आक्रमण के साथ, यह युवा खिलाड़ी के लिए पूरी तरह से एक नई चुनौती है। अगर पैट कमिंस की अगुवाई वाली टीम को ऑस्ट्रेलिया में अच्छा करना है, तो लाबुशेन को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।

लबुशेन ने एशेज टेस्ट सीरीज से पहले जेम्स एंडरसन के लिए क्या कहा ?

27 वर्षीय लाबुशेन, महान तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के नेतृत्व में अंग्रेजी टीम का सामना करने के लिए उत्साहित दिख रहे हैं। लबुशेन का मानना है कि इंग्लैंड के गेंदबाज उसी तरह का प्रदर्शन करना चाहेंगे जैसा भारतीय गेंदबाजों ने बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के दौरान किया था।

उन्होंने आगे कहा कि, “भारत उन योजनाओं को गेंदबाजी करने के लिए बहुत अभ्यस्त है, जो उनके लिए दूसरी प्रकृति है। निचले बाउंसिंग विकेटों पर सीधे गेंदबाजी करना, ऊपर और नीचे जहां यह उलट रहा है। इंग्लैंड में, परंपरागत रूप से, वे थोड़ी चौड़ी गेंदबाजी कर रहे हैं। मैं आपको यह नहीं बता सकता कि वो किस प्लान के साथ आएंगे, लेकिन मैं हर उस चीज की तैयारी कर सकता हूं जो मुझ पर फेंकी जा सकती है।”

बल्लेबाजी ऑलराउंडर ने तब 39 वर्षीय एंडरसन के साथ अपनी आगामी लड़ाई के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि “मैं वास्तव में जिमी (एंडरसन) का सामना करने के लिए उस चुनौती का इंतजार नहीं कर सकता, आप इतने विकेट नहीं लेते हैं और गुणवत्ता के बिना इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी बन जाते हैं।”