माइकल वॉन की हिम्मत तो देखो, सचिन तेंदुलकर को ताना मार रहे हैं - क्रिकट्रैकर हिंदी

माइकल वॉन की हिम्मत तो देखो, सचिन तेंदुलकर को ताना मार रहे हैं

बेन स्टोक्स ने सिडनी में इंग्लैंड को मैच ड्रॉ करवाने में एक बड़ी भूमिका निभाई।

Michael Vaughan
Michael Vaughan. (Photo Source: Getty Images)

सिडनी के मैदान पर खेले गए एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट मैच के दौरान कुछ ऐसा दृश्य देखने को मिला जिसे देखकर हर कोई हैरान था। दरअसल इंग्लैंड की पहली पारी में जब बेन स्टोक्स बल्लेबाजी कर रहे थे तन कैमरन ग्रीन की 142 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली एक गेंद स्टंप्स पर जा लगी। हैरानी की बात ये रही कि इतनी तेज गेंद लगने के बाद भी विकेट की गिल्लियां नहीं हिली।

यह दृश्य जब फैंस और क्रिकेट दिग्गजों ने देखा सभी ने अपना सर पकड़ लिया। और उसके बाद कुछ क्रिकेट दिग्गज अपनी अपनी राय देने लगे। उनमें से एक नाम सचिन तेंदुलकर का भी है। घटना के बाद महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने एक नया नियम लागू करने की इच्छा जताई।

भारत के पूर्व बल्लेबाज ने इस घटना पर ट्वीट किया कि गेंदबाजों के स्टंप्स से टकराने और बेल्स हट जाने पर उनके पक्ष में एक नया नियम लागू किया जाना चाहिए। महान लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने मास्टर ब्लास्टर के विचारों का समर्थन किया था और समिति को सुझाव लेने के लिए आश्वस्त थे। इसी मामले को लेकर हाल ही में बातचीत में आए इंग्लैंड के पूर्व माइकल वॉन ने एक स्मार्ट सवाल किया है।

यहां देखिए सचिन तेंदुलकर का वह ट्वीट

वॉन ने कहा कि क्रिकेट के भगवान से कैसे सवाल किया जा सकता है। माइकल वॉन का मानना है कि अगर सचिन तेंदुलकर खुद खेल रहे होते तो वो कभी भी इस नियम को बदलने की बात नहीं करते हालांकि, संन्यास लेने के बाद लोग अक्सर दूसरे के हक की बात करते हैं।

फॉक्स क्रिकेट के साथ बात करते हुए माइकल वॉन ने कहा, “सचिन तेंदुलकर पर सवाल उठाने वाले हम कौन होते हैं, पर मैं एक बात की गारंटी देता हूं कि अगर वो इस समय नियमित रूप से खेल रहे होते तो वो भी चाहते कि विकेट पर गेंद लगने के बाद गिल्लियां जरूर उड़े, नहीं तो आउट न दिया जाये। वह खुद मैदान पर होते तो कभी भी मौजूदा नियम को बदलने की बात नहीं कहते।”