in

जसप्रीत बुमराह की तारीफ में जमीन-आसमान एक कर दिया इस ऑस्ट्रेलियाई ने

दो बेसिक्स उनके काफी अच्छे हैं, वह तेज गेंदबाजी करते हैं और वह सटीक गेंदबाजी करते हैं।

Jasprit Bumrah
Jasprit Bumrah (Photo by Daniel Kalisz/Getty Images)

जसप्रीत बुमराह के नाम का डंका अब चारों ओर है। टेस्ट हो, वनडे हो या हो टी20, क्रिकेट के हर फॉर्मेट में बुमराह हैरत अंगेज प्रदर्शन कर रहे हैं। ज्यादा दूर नहीं जाए और भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए पहले टी20 मैच की बात करें तो बुमराह ने 19वां ओवर डाल कर भारत को जीत की राह पर ला खड़ा किया था, लेकिन उमेश यादव के आखिरी ओवर ने बुमराह की मेहनत पर पानी फेर दिया। बुमराह ने इससे पहले 19वें ओवर में सिर्फ दो रन देकर दो विकेट चटकाकर भारत को वापसी दिलाई थी।

उमेश यादव के आखिरी ओवर में पैट कमिंस ने अंतिम दो गेंद पर चौका और दो रन लेकर ऑस्ट्रेलिया की तीन विकेट से जीत सुनिश्चित की। अब यही कमिंस भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की तारीफ करने से खुद को नहीं रोक पाए और उन्होंने कहा कि भारतीय गेंदबाज की तेजी और सटीकता उसे तीनों प्रारूपों में बड़ा खतरा बनाते हैं।

तारीफ पे तारीफ
कमिंस ने बुमराह की प्रशंसा करते हुए कहा दो बेसिक्स उनके काफी अच्छे हैं, वह तेज गेंदबाजी करते हैं और वह सटीक गेंदबाजी करते हैं। विश्व क्रिकेट में जो भी ऐसा करता है, वह बल्लेबाजों के लिए असली चुनौती पेश करता है। उनके पास बेहतरीन धीमी गेंद है, ऐसा लगता है कि उनके पास काफी अच्छा क्रिकेट दिमाग है, वह अपनी योजनाओं को काफी अच्छी तरह अंजाम देते हैं। बुमराह ने सभी तीनों प्रारूपों में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और उनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है जिस पर वे खरे भी उतर रहे हैं।

अपनी भी तारीफ
कमिंस इस समय काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और अपने प्रदर्शन से बेहद खुश हैं। वे कहते हैं मैंने सफेद गेंद से काफी क्रिकेट नहीं खेला है इसलिए अधिक मैच खेलने को लेकर उत्सुक हूं क्योंकि यह लाल गेंद जितनी स्विंग नहीं होती।

कमिंस ने पहले टी20 में बल्ले से उपयोगी योगदान दिया। इस बारे में वे कहते हैं- मैं आठवें या नौवें नंबर पर बल्लेबाजी करके काफी खुश हूं। मुझे लगता है कि टीम में मेरी भूमिका यह है कि मैं अपना विकेट बचाऊं और कुछ अधिक समय तक बल्लेबाजी करूं।

Team India

दूसरे टी20 में ये है भारत और आस्ट्रेलिया की प्लेइंग इलेवन, ऐसा रहेगा पिच और मौसम का मिजाज

Sanath Jayasuriya

कभी छुड़ाते थे गेंदबाजों के छक्के, अब लग गया दो साल का प्रतिबंध