फिर से शुरू हो सकती है भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज, PCB कर रहा है प्लानिंग - क्रिकट्रैकर हिंदी

फिर से शुरू हो सकती है भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज, PCB कर रहा है प्लानिंग

रमीज राजा चाहते हैं कि यह सीरीज टी-20 फॉर्मेट में खेला जाए।

Ramiz Raja. (Photo by ARIF ALI/AFP via Getty Images)
Ramiz Raja. (Photo by ARIF ALI/AFP via Getty Images)

भारत और पाकिस्तान के बीच हमेशा ही कोई भी क्रिकेट मैच अब सिर्फ ICC टूर्नामेंट में ही देखने को मिलती है। बॉर्डर पर दोनों देशों के बीच राजनितिक तनाव को लेकर पिछले 10 साल से दोनों टीमों ने कोई क्रिकेट सीरीज नहीं खेली है। लेकिन अब पीसीबी के चेयरमैन रमीज राजा अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रहे हैं कि इन दोनों ही देशों के बीच क्रिकेट को एक बार फिर से शुरू किया जाए।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष, रमीज राजा वार्षिक आधार पर एक चतुष्कोणीय (quadrangular) सीरीज खेलना चाहते हैं जिसमें भारत, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड शामिल हों। राजा चाहते हैं कि इस टूर्नामेंट के सभी मैच टी20 प्रारूप में खेला जाए।

दोनों देशों के बीच आखिरी सीरीज 10 साल पहले हुई थी

चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान और भारत बिगड़ते राजनीतिक हालात के कारण द्विपक्षीय क्रिकेट खेलने से दूर हो गए हैं। उन्होंने आखिरी बार भारत में 2012/13 में सीरीज खेली थी। हालांकि दोनों क्रिकेट बोर्ड ने 2015/23 चक्र के दौरान छह सीरीज खेलने की योजना बनाई, लेकिन किसी कारणवश ऐसा नहीं हो सका। पाकिस्तान और भारत 2013 से केवल एशिया कप और ICC टूर्नामेंट में खेले हैं।

दूसरी ओर, रमीज ने बताया कि ऑस्ट्रेलियाई दौरे से पहले पाकिस्तान में बहुत बड़ी सीरीज होने की संभावना है और वह पाकिस्तान मूल के ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा की हालिया टिप्पणियों से खुश हैं, क्योंकि वह निजी तौर पर टीम के साथियों से पाकिस्तान की यात्रा करने का आग्रह कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया मार्च की शुरुआत में तीन टेस्ट, तीन वनडे और एक टी-20 मैच के लिए पाकिस्तान का दौरा करने वाला है।

ताजा हालात को देखकर यही लगता है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) इस दौरे को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। 1998 के बाद से ऑस्ट्रेलियाई टीम का ये पहला पाकिस्तान दौरा होगा। इस बीच उस्मान ख्वाजा ने कहा कि, “मुझे हमेशा उपमहाद्वीप, बांग्लादेश, भारत और विशेष रूप से पाकिस्तान में बहुत समर्थन मिला है जहाँ मैं पैदा हुआ था। जब मैं पीएसएल के लिए था तब भी वे अद्भुत थे। मैं वहां वापस जाकर खेलना चाहूंगा।”