in

राजनीति के कारण नहीं मिल रहा है पाकिस्तान के युवा खिलाड़ियों को मौका

मुंबई में साल 2008 में हुए आतंकी हमले के बाद द्विपक्षीय श्रृंखला में रुकावट आ गई

Shoaib Akhtar
Shoaib Akhtar. (Photo Source: Twitter)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय मैच नहीं होने पर कहां है राजनीति के कारण भारत और पाकिस्तान के क्रिकेटरों को ऐतिहासिक मैच से वंचित किया जा रहा है. साल 2007 से भारत और पाकिस्तान के बीच कोई भी पूरी द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं हुई.

मुंबई में साल 2008 में हुए आतंकी हमले के बाद द्विपक्षीय श्रृंखला में रुकावट आ गई. भारत में साल 2012 में एक छोटी सी सीरीज का आयोजन हुआ था. मगर सिमा पर हो रहे हमले और राजनैतिक रिश्ते में भी दोनों देशों के बीच जिस तरह कड़वाहट दिख रही है वैसे में दोनों देशों के बीच पूरी तरह क्रिकेट सम्बंध सुधरने के आसार नहीं दिख रहे हैं.

पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ी शोएब अख्तर ने कहा है. ‘ यह बहुत दुख की बात है कि सीमा के दोनों तरफ भारत-पाक प्रतिद्वंदिता का अनुभव करने का मौका नहीं मिल रहा है, एशेज यह सबसे बड़ी सीरीज है. क्रिकेटरों को रातों-रात अपने देश के लिए हीरो बनने का मौका भी नहीं मिल रहा, पाकिस्तानी क्रिकेटरों को भारत में काफी प्यार मिलता है, जिसका अनुभव मैंने भी किया है, और मैं चाहता हूं पाकिस्तान के मौजूदा क्रिकेटर भी उस प्यार का अनुभव करें. और अपनी प्रतिभा भी दिखाए.

वही शोएब अख्तर ने अपने आप को भाग्यशाली बताते हुए कहां है कि मैं भारत पाकिस्तान के बीच प्रतिद्वंद्वीता का हिस्सा रहा हूं.  इनका कहना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच होना चाहिए, अगर ऐसा नहीं हो रहा तो लोगों को आगे बढ़ जाना चाहिए और कोई भी बयान देने से बचना चाहिए. शोएब अख्तर को भारत के साथ मैच में एक बड़ा फायदा 1999 में हुआ था जब कोलकाता में एशियाई टेस्ट चैंपियनशिप के दौरान भारत के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड को लगातार आउट कर रातों रात स्टार बन गए थे.

Written by Sujeet Kumar

Reporting is My Passion

Indian team

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच भारतीय टीम इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतर सकती है

Virat Kohli

विराट कोहली ने तीसरे टेस्ट मैच में आजिंक्य रहाणे को खिलाने के दिए संकेत