अब तो आईपीएल में भी होने जा रहा है समय का 'खेल' - क्रिकट्रैकर हिंदी

अब तो आईपीएल में भी होने जा रहा है समय का ‘खेल’

बीसीसीआई (BCCI) ने ITT दस्तावेज खरीदने की आखिरी तारीख 10 दिन बढ़ाकर 20 मई तक कर दी है।

Tata IPL Trophy (Image Source: Twitter)
Tata IPL Trophy (Image Source: Twitter)

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के  मैचों की समय सारिणी में अगले सीजन से बड़े बदलाव होने की उम्मीद है, क्योंकि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल मैचों को शाम 7:30 बजे की बजाय रात 8 बजे से शुरू कराना चाहता है। अब तक आईपीएल (IPL) मैच शाम 7:30 बजे से खेले जाते हैं, वहीं दोहरे मुकाबले में पहला मैच 3:30 बजे से शुरू किया जाता है, लेकिन अगले आईपीएल 2023 (IPL 2023) से समय सारिणी में बदलाव हो रहा है।

बीसीसीआई (BCCI) ने कथित तौर पर संभावित प्रसारकों को सूचित किया है कि वे अगले सीजन से आईपीएल (IPL) मैच रात 8 बजे से शुरूआत करना चाहते है। वर्तमान में आईपीएल (IPL) मैच भारतीय समयानुसार शाम 7:30 बजे से शुरू हो रहे हैं, लेकिन आधिकारिक प्रसारक स्टार स्पोर्ट्स के अनुरोध पर बीसीसीआई (BCCI) ने आईपीएल (IPL) मैचों के समय को आगे बढ़ाने का फैसला किया है।

आईपीएल मैचों के समय में होने जा रहा है बड़ा बदलाव

बीसीसीआई (BCCI) ने साल 2023-27 तक के लिए प्रसारण अधिकार पाने की इच्छुक पार्टियों को अपनी शर्त बता दी है कि वे अगले सीजन से मैच शाम 4 बजे (डबल-हेडर वाले दिनों में) और रात 8 बजे से शुरू करना चाहते हैं।

आपको बता दें, पहले 10 सीजनों तक आईपीएल (IPL) मैच शाम 4 बजे (डबल-हेडर वाले दिनों में) और रात 8 बजे शुरू होते थे। लेकिन वर्तमान आधिकारिक प्रसारक स्टार स्पोर्ट्स का मानना था कि मैच शाम 7:30 बजे से शुरू कराने से दर्शकों की संख्या में  बढ़ोतरी के साथ अधिक कमाई हो सकती है, इसलिए समय को 30 मिनट पीछे खिंचा गया था, लेकिन अब फिर से मैच वहीं पुराने समय पर शुरू किए जा सकते हैं।

क्रिकबज के अनुसार, बीसीसीआई (BCCI) ने आईपीएल (IPL) के टेलीविजन और डिजिटल अधिकारों के लिए बोली लगाने वाली पार्टियों को सूचित किया है कि बोर्ड के लिए अगले सीजन से आईपीएल मैचों की शुरूआत के लिए भारतीय समयानुसार शाम 4 बजे और रात 8 बजे का समय सर्वोत्तम रहेगा।

बीसीसीआई (BCCI) ने ITT दस्तावेज खरीदने की आखिरी तारीख 10 दिन बढ़ाकर 20 मई तक कर दी है, जबकि अगले पांच साल के लिए आईपीएल के टेलीविजन और डिजिटल अधिकारों की बोली 12 जून को लगाई जाएगी।